हिमाचल में अधिकारी और कुछ नेता इतने बेलगाम हो गए है जो कभी भी कहीं भी कुछ भी कर सकते है। सराज को विश्व पटल पर लाने उभारने की कोशिश में लगे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को शायद सराज के कर्मचारियों और अधिकारियों से ऐसी आशा भी नहीं होगी। भले ही आम जनता ने ऐसे छुटभैये नेताओं को अच्छा खासा सबक सिखाया हो, लेकिन फिर भी यह छुटभैये नेता और अधिकारी मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश को बदनाम करने में कोई कसर बाकी नही छोड़ रहे।

पंचायत घर बना मधुशाला(स्क्रीनशॉट, सोर्स सोशल मीडिया)

सराज विधानसभा क्षेत्र में आज तब हद हो गई जब शरण पंचायत में पूर्व उपप्रधान, वार्ड सदस्य, पंचायत चौकीदार और सचिव ने कांढा पंचायत के सचिव का जन्मदिन बनाने के लिए पंचायत घर को मधुशाला बना दिया। इस घटना के बाकायदा फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए और सभी लोगों को पंचायत घर के मधुशाला बनाने का सीधा प्रसारण दिखाया गया। फोटो और वीडियो में बाकायदा केक काटा गया और दारू पीते हुए सीधा लाइव वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया।

इस जन्मदिन सेलिब्रेशन का पंचायत घर से सीधा प्रसारण तो किया ही गया। साथ में लाइव वीडियो भी चलाया गया। एक साथ लगभग 37 फ़ोटो Neeraj Thakur नाम के फेसबुक प्रोफाइल पर भी अपलोड किए गए। इन फोटो और वीडियो पर लोगों के आपत्ति दर्ज करवाने वाले कमेंट आने पर Neeraj Thakur ने यह कारनामा छुपाने के लिए सारे फ़ोटो और वीडियो प्रोफाइल से हटा लिए गए। लेकिन उससे पहले कई लोगों ने स्क्रीन शॉट सेव कर लिए। जिसके चलते यह मामला सामने आया है।

error: Content is protected !!