अपराधी कितना भी दबदबे वाला हो लेकिन उसके मन में कहीं न कहीं कानून से डर बना ही रहता ही है। कुछ ऐसा ही मामला राजधानी जयपुर से सामने आया है। जहां एक अस्पताल में इलाज कराने पहुंचा अपराधी, पुलिस से बचने के लिए गलत नाम से एडमिट हुआ था। 

जानकारी के अनुसार, राजस्थान सहित चार राज्यों के वांटेड शार्प शूटर रवि यादव को जयपुर पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। बदमाश जयपुर के करधनी थाना इलाके में कालवाड़ रोड स्थित चिरायु अस्पताल में पेट में गोली लगने पर इलाज के लिए भर्ती हुआ था। इस बीच जयपुर कमिश्नरेट के पश्चिम जिले में जिला स्पेशल टीम के हैड कांस्टेबल मनेंद्र सिंह और कांस्टेबल भाग्यवर्धन को मुखबिर से मिली सूचना के बाद झोटवाड़ा एसीपी हरिशंकर शर्मा और जिला स्पेशल टीम के प्रभारी नरेंद्र खींचड़ के नेतृत्व में हैड कांस्टेबल मनेंद्र सिंह व कांस्टेबल भाग्यवर्धन चिरायु अस्पताल पहुंचे। 

कांस्टेबल मनेंद्र ने जैसे ही आवाज़ लगा कर रवि पुकारा तो उसने जवाब नहीं दिया, बाद में पास में जाकर पूछने पर उसने खुद का नाम वकील बताया। लेकिन ज्यादा देर तक पुलिस पूछताछ में अपनी पहचान छिपा नहीं सका। पुलिस ने बताया कि, वह अस्पताल में बीकानेर के खाजूवाला निवासी वकील के नाम से वार्ड में एडमिट हुआ है। ताकि किसी को रवि यादव की पहचान न हो सके। सच्चाई सामने आने पर पुलिस ने रवि यादव को गिरफ्तार कर लिया। उसने सिर्फ इतना ही बताया है कि, बन्दूक की सफाई करते वक्त उसे पेट में गोली लगी है। लेकिन घटना कब और कहां हुई, वह कैसे अस्पताल तक पहुंचा। 

इसकी जानकारी वह अभी नहीं दे पाया है। पुलिस के अनुसार, फिलहाल रवि अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है। वहीं, उसे कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच हिरासत में लेकर एसएमएस अस्पताल रेफर कर दिया गया है। दूसरी तरफ, रवि के पकड़े जाने की खबर मिलते ही दिल्ली, हरियाणा और पंजाब की स्पेशल सेल की पुलिस टीमें भी जयपुर पहुंच गई हैं। 

इस प्रकरण के सम्बंध में अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अजयपाल लांबा ने बताया कि, गिरफ्तार रवि यादव उर्फ भोला हरियाणा में झज्जर का रहने वाला है। झज्जर व पंजाब में क्रमशः दो व्यक्तियों की गोली मारकर हत्या करने के केस दर्ज है। 

वहीं, दिल्ली के सफदरगंज में कुख्यात अपराधी नरेश सेठी को पुलिस हिरासत से भगाने और फरीदाबाद में कालाजेठेड़ी को भगाने की वारदातों के अलावा सिरसा हरियाणा में 3 व्यक्तियों को जिंदा जलाने की वारदातों में वांटेड है। उस पर अलग अलग राज्यों में ईनाम भी घोषित है। आरोपी रवि का नरेश सेठी गैंग, कालाजेठेडी गैंग और लारेंस विश्नोई गैंग से भी संपर्क है।

By RIGHT NEWS INDIA

RIGHT NEWS INDIA We are the fastest growing News Network in all over Himachal Pradesh and some other states. You can mail us your News, Articles and Write-up at: News@RightNewsIndia.com

error: Content is protected !!