अमेरिका में तूफान से 40 से ज्यादा की मौत, न्यू यॉर्क और न्यू जर्सी में आपातकाल

अमेरिका के न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी में समुद्री तूफान इडा की वजह से हुई भारी बारिश के कारण तबाही मच गई है। तूफान में अब तक 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई। दोनों ही जगहों पर आपातकाल की घोषणा की गई है। वहीं तूफान और अधिक खतरनाक होते हुए न्यू इंग्लैंड की तरफ बढ़ गया है।

न्यूयॉर्क शहर में पुलिस ने सात लोगों की मौत की पुष्टि की है जबकि न्यूजर्सी में एक व्यक्ति की मौत हुई है। न्यूयॉर्क एफडीआर ड्राइव, मैनहट्टन के पूर्व की ओर एक बड़े हिस्से और ब्रोंक्स नदी पार्कवे बुधवार देर शाम तक पानी में डूबे थे। सबवे स्टेशनों और रास्तों पर पानी भरने से मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्टेशन अथॉरिटी को सभी सेवाओं को निलंबित करना पड़ा। ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो में सबवे पर सफर कर रहे लोग कारों में सीटों पर खड़े दिखाई दे रहे हैं।

दूसरे वीडियो में सड़कों पर खड़ी गाड़ियां शीशे तक डूबी दिखाई दे रही हैं। न्यूयॉर्क में राष्ट्रीय मौसम सेवा कार्यालय ने बुधवार रात बाढ़ को लेकर अचानक आपात स्थिति की पहली चेतावनी जारी की थी। यह चेतावनी विशेष परिस्थितियों में तब जारी की जाती है, जब बाढ़ से विनाशकारी क्षति हो रही हो या फिर होने वाली हो। बारिश की वजह से न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी दोनों ही जगह कई इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। मूसलाधार बारिश के कारण बिजली आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है। इसकी वजह से हजारों लोग घरों में बिजली से वंचित हैं।

न्यूजर्सी की सभी काउंटियों में आपात स्थिति घोषित
तूफान और बारिश की वजह से न्यूजर्सी के सभी 21 काउंटियों में आपातकाल की स्थिति की घोषणा की हई है। लोगों को चेतावनी जारी कर बाढ़ वाली सड़कों से दूर रहने का आग्रह किया गया है। मौसम विज्ञानियों ने बाढ़ के और विकराल होने की चेतावनी जारी की है।

अमेरिका में इडा चक्रवात का कहर अभी थमा नहीं है। सोमवार को लुइसियाना के तट से टकराने के बाद यहां के तटीय क्षेत्रों में हवाओं की रफ्तार 241 किमी प्रतिघंटा तक पहुंच गई थीं। इसे अमेरिका के सबसे ताकतवर तूफानों में से एक माना गया था। इसकी ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि चक्रवात के कमजोर पड़ने के दो दिन बाद भी अमेरिका के कई शहरों में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। आलम यह है कि न्यूयॉर्क, मिसिसिप्पी, अलाबामा और फ्लोरिडा जैसे राज्यों में तो सड़कों पर ही तालाब बन गए हैं और लोगों को बचाने के लिए राहत-बचावकर्मी नाव लेकर निकले हैं।

न्यूयॉर्क में बुधवार को ही पांच घंटे के अंदर 17.78 सेंटीमीटर तक पानी गिर गया। अगर आसमान से गिरने वाले इतने पानी की मात्रा निकाली जाए तो पता चलता है कि न्यूयॉर्क में पांच घंटे के अंदर ही करीब 1 लाख 32 हजार करोड़ लीटर पानी गिर गया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, इतने पानी से ओलंपिक गेम्स में इस्तेमाल होने वाले स्विमिंग पूल को 50 हजार बार भरा जा सकता है।

नेवार्क में टूटा एक दिन की बारिश का रिकॉर्ड दुनियाभर में इतने कम समय में इतनी बारिश होना अपने आप में काफी ज्यादा है, खासकर शहरी इलाके में इतनी बारिश वहां रहने वालों के लिए काफी दिक्कतें पैदा कर सकती हैं। इतना ही नहीं न्यूयॉर्क राज्य के नेवार्क में इस दौरान 21.59 सेंटीमीटर तक बारिश हुई है। यह शहर के इतिहास में सबसे ज्यादा बारिश का दिन रहा।

न्यूयॉर्क में आपातकाल लागू न्यूयॉर्क में भारी बारिश के चलते गवर्नर कैथी होचुल ने पूरे राज्य में ही आपातकाल का एलान कर दिया। सोशल मीडिया पर कई फोटोज और वीडियोज वायरल हुए हैं, जिनमें बारिश का पानी एयरपोर्ट के अंदर घुसा दिखाई दिया। इसके चलते नेवार्क लिबर्टी इंटरनेशनल एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया और बारिश के चलते यहां उड़ानों पर भी रोक लगा दी गई। बताया गया है कि अमेरिका के पूर्वोत्तर में अब तक 14 लोगों की मौत हुई है। इसी तरह दक्षिणी राज्यों में भी अब तक छह जानें जा चुकी हैं।

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!