प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगावी विधानसभा चुनावों में नकारात्मक प्रचार को लेकर पार्टी नेताओं को आगाह किया है। गुरुवार शाम को बीजेपी केंद्रीय समिति की बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें पश्चिम बंगाल और असम में पहले चरण के मतदान के लिए उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हुई। बैठक में शामिल एक नेता ने कहा कि इस बैठक में पीएम मोदी ने यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर जोर दिया कि चुनाव प्रचार सभ्य तरीके से होना चाहिए और राज्य में जो नैरेटिव भाजपा सेट की है, उसे नहीं बिगाड़ा जाए। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमें सत्तारूढ़ टीएमसी और उसके नेताओं से मुकाबला करने के लिए नाम के साथ गाली-गलौच या नकारात्मकता में लिप्त नहीं होने के लिए कहा। उन्होंने सबसे कहा कि बीजेपी का चुनाव प्रचार सभ्य तरीके का होना चाहिए। बता दें कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को टक्कर देने के लिए बीजेपी कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाह रही है। जबकि असम में सत्ता में वापसी के लिए पूरे दम-खम के साथ मैदान में उतरी है।

बीजेपी के एक पदाधिकारी ने कहा कि पार्टी ने केवल असम की गद्दी को बरकरार रखने का लक्ष्य रखा है, बल्कि पिछले चुनाव की तुलना में और अधिक सीटें जीतने का भी लक्ष्य रखा है। बता दें कि जब बीजेपी साल 2016 में पहली बार असम की सत्ता में आई थी तो उसे 126 विधानसभा सीटों में से 60 सीटें मिली थीं। इस बार के चुनाव में बीजेपी 92 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि गठबंधन में शामिल एजीपी 26 और यूपीपीएल 8 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। पश्चिम बंगाल और असम में पहले चरण के चुनाव के लिए बीजेपी जल्द ही उम्मीदवारों की पहली सूची जारी करने वाली है। 

error: Content is protected !!