Right News

We Know, You Deserve the Truth…

खनन निरक्षक को डरा धमका कर चेक पोस्ट से पंजाब ले गए अवैध रेत से भरी गाड़ियां

कोरोना काल में जहां पूरा देश इस आपदा से लड़ रहा है। वहीं, कोरोना कर्फ्यू के बीच मालवाहक वाहनों को मिली छूट की आड़ में खनन माफिया धड़ल्ले से सोमभद्रा नदी से रेत की धड़ल्ले से पंजाब को तस्करी में लग गया है। मंगलवार रात जब खनन नरीक्षक पंवर सिंह ने आशादेवी खनन चैक पोस्ट पर दबिश दी तो यह जानकर हैरान रह गए कि नौ मीट्रिक टन एम-फार्म पर कई-कई टन रेत पंजाब को ले जाई जा रही थी। चैकिंग के दौरान खनन माफिया खनन निरीक्षक के सामने ही कुछ गाडि़यां भगाकर आसानी से पंजाब में प्रवेश कर गया। खनन निरीक्षक पंवर सिंह को लगातार यह शिकायतें मिल रही थीं कि रात के अंधेरे में आशा देवी बैरियर से धड़ल्ले से रेत सामग्री लेकर टिप्पर सरकार को चूना लगा रेत पंजाब पहुंचा रहे हैं।

इस शिकायत के आधार पर पंवर सिंह ने मंगलवार रात्रि अचानक चैक पोस्ट पर दबिश दी और एक टिप्पर को जांच के लिए रोका तो उसके पास नौ मीट्रिक टन रेत का एम-फार्म था लेकिन जब टिप्पर का भार करवाया गया तो उसमें कहीं ज्यादा रेत लदी पाई गई। गाड़ी को रोकने पर खनन माफिया भी बौखला गया और चैक पोस्ट तैनात स्टाफ से तू-तू, मैं-मैं भी की। इसी बीच खनन माफिया ने जबरन कुछ टिप्पर चैक पोस्ट से बिना जांच के पार करवा पंजाब की सीमा में प्रवेश करवा दिए। खनन निरीक्षक पंवर सिंह ने बताया कि इस चैक पोस्ट से जो भी टिप्पर पंजाब के लिए खनन सामग्री लेकर जाएगा उसे भारसेतु पर वाहन का भार करवाना ही होगा। अधिक माल पाए जाने पर उसे जुर्माना अदा करना ही होगा।

error: Content is protected !!