Right News

We Know, You Deserve the Truth…

नाबालिग बेटी से मिलने आए प्रेमी की माता पिता की आंखों के सामने कुल्हाड़ी से काट कर हत्या

कानपुर के घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के बिराहिनपुर गांव में पिता ने भाइयों के साथ मिलकर अपनी नाबालिग बेटी और उसके नाबालिग प्रेमी को कुल्हाड़ी से काटकर मौत के घाट उतार दिया। घटना के दौरान प्रेमी का पिता खिड़की से झांककर आरोपितों से रहम की गुहार करता रहा लेकिन आरोपित दोनों को मौत के घाट उतारने के बाद ही शांत हुए।

बिराहिनपुर गांव निवासी ट्रक चालक शिवआसरे के चार बच्चों में बेटी सपना (16) सबसे बड़ी थी। बताया गया कि करीब दो साल से सपना का गांव के ही बैजनाथ के इकलौते बेटे शालू उर्फ कल्लू (17) से प्रेम संबंध थे। अक्सर दोनों परिवारों में इसको लेकर विवाद होता था। गुरुवार को शिवआसरे पत्नी व दो बच्चो को लेकर बांदा के बरुआ गांव में साले की शादी समारोह में शामिल होने गया था।

घर मे बड़ी बेटी के अलावा उसका भाई था। रात करीब 12 बजे प्रेमी शालू सपना से मिलने उसके घर आ गया। इसकी भनक लगते ही सपना के चाचा ने मुख्य दरवाजे में ताला बंद कर अपने भाई को सूचना दे दी। शनिवार सुबह करीब सात बजे बांदा से पहुंचे पिता शिव आसरे ने भाई दीपक व रामआसरे के साथ मिलकर बेटी और उसके कथित प्रेमी की कुल्हाड़ी से नृशंस हत्या कर दी।

माता-पिता की आंखों के सामने बेटे का बेरहमी से कत्ल

शिव आसरे जब भाइयों के साथ अपनी बेटी सपना और उसके प्रेमी शालू को कुल्हाड़ी से हमला कर रहा था तो शालू के माता-पिता भी मौजूद थे। घर का दरवाजा बंद होने के कारण दोनों खिड़की से सब कुछ देख रहे थे। शिव आसरे और उसके भाइयों से रहम की गुहार कर रहे थे लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं था। बेटी समेत दो को मौत के घाट उतारने के बाद पिता घर में ही जमा रहा। उसके दोनों भाई पुलिस के पहुंचने से पहले ही फरार हो गए। प्रधानपति पप्पू सिंह ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मुख्य आरोपी बेटी के पिता शिव आसरे को गिरफ्तार कर हत्या में इस्तेमाल कुल्हाड़ी बरामद कर ली है। जानकारी होने पर एसपी ग्रामीण आदित्य शुक्ला, सीओ सुबह 9.30 बजे मौके पर पहुंचे।

error: Content is protected !!