मनीष सिसोदिया ने किया दिल्ली में ‘तोड़-फोड़’ को रोकने का आग्रह

RIGHT NEWS INDIA: दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र लिखकर उनसे राष्ट्रीय राजधानी में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित तीन नगर निकायों द्वारा चलाए जा रहे अतिक्रमण रोधी अभियान के कारण शहर में हो रही ‘तोड़-फोड़’ को रोकने का आग्रह किया है।

सिसोदिया ने एक ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि नगर निकायों ने दिल्ली में 63 लाख मकान तोड़ने की योजना बनाई है।

सिसोदिया ने कहा कि इनमें से 60 लाख मकान कई अनधिकृत कॉलोनी में हैं, जबकि अन्य तीन लाख वे मकान हैं जिनके छज्जे निश्चित सीमा से बाहर हैं। हमें पता चला है कि इस संबंध में नोटिस भी भेज दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि वे राष्ट्रीय राजधानी में व्यापक स्तर पर तोड़-फोड़ करने वाले हैं। दिल्ली की करीब 70 प्रतिशत आबादी बेघर हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी इस तोड़-फोड़ अभियान का विरोध करती है और मैंने इस संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर उनसे मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने उन्हें पत्र लिखकर कहा है कि इसे (तोड़-फोड़ अभियान) रोका जाना चाहिए। अगर बुलडोजर चलाने हैं, तो उन्हें भाजपा के नेताओं तथा नगर निकाय प्रतिनिधियों के आवास पर चलाएं, जिन्होंने ऐसी संरचनाओं के निर्माण की अनुमति देने के लिए रिश्वत ली थी।

दिल्ली के मदनपुर खादर में वीरवार को एक अतिक्रमण रोधी अभियान के दौरान विरोध-प्रदर्शन और पथराव हुआ था, जहां स्थानीय लोगों ने कानूनी मान्यता प्राप्त ढांचों को भी बुलडोजर से गिरा देने का दावा किया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण-पूर्वी दिल्ली इलाके में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले आप के विधायक अमानतुल्लाह खान को लोक सेवकों को उनके कर्तव्य का निर्वहन करने से रोकने और दंगा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

SHARE THE NEWS:

Comments:

error: Content is protected !!