Right News

We Know, You Deserve the Truth…

वैक्सीन पर केंद्र और दिल्ली सरकार में भिड़ंत, मनीष सिसोदिया ने मोदी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर से देश की राजधानी दिल्ली का बुरा हाल है. उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के इस हाल का सारा ठीकरा केंद्र सरकार पर फोड़ा है. एक दिन पहले सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि इमेज चमकाने के लिए केंद्र ने वैक्सीन दूसरे देशों को आयात कर दी. केंद्र के इस कदम से युवाओं को वैक्सीन वक्त पर नहीं मिल सकी और कितने ही युवाओं ने अपनी जान गंवा दी. मनीष सिसोदिया के आरोपों पर भाजपा ने पलटवार करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार ने सिर्फ 5.5 लाख वैक्सीन का आर्डर दिया था. अब मनीष सिसोदिया ने फिर भाजपा और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.
मनीष सिसोदिया ने आज कहा कि जिस वक्त देश मे लोग मर रहे थे उस वक्त केंद्र सरकार ने 6.5 करोड़ वैक्सीन विदेशों को बेच दी. उन्होंने कहा कि ये मसला मैंने कल डेटा के साथ रखा था, लेकिन भाजपा ने आज बड़ी बेशर्मी से झूठा आरोप लगाया है कि दिल्ली सरकार ने सिर्फ 5.5 लाख वैक्सीन ऑर्डर की. भाजपा के आरोपों पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि मैं जनता के सामने 4 चिट्ठियां रख रहा हूं. अप्रैल में केंद्र ने राज्यों को दो कंपनियों से सीधा वैक्सीन खरीदने का ऑर्डर दिया था. उन्होंने कहा कि हमने युवाओं के लिए 1 करोड़ 34 लाख वैक्सीन की मांग रखी थी. कंपनियों ने तो जवाब नहीं दिया. केंद्र का जवाब आया कि आपको 92 हजार 800 को-वैक्सीन ओर 2 लाख 67 हजार 690 कोविशेल्ड ही मिल सकेंगे। सिसोदिया ने कहा कि ये भाजपा झूठ बोल रही है की हमने 5.5 लाख वैक्सीन का ऑर्डर किया. भाजपा इतना बड़ा झूठ क्यों बोल रही है, जबकि वो भी जानती है कि किस राज्य को कितनी वैक्सीन मिलेगी ये केंद्र सरकार तय करेगी.

सिसोदिया ने केंद्र सरकार से प्रश्न किया कि किस लालच में आपने वैक्सीन विदेशों को बेच दी. 1 करोड़ 34 लाख का आर्डर हमारे पास है. केंद्र की दिलचस्पी वैक्सीन को विदेशों में बेचने में है. 1 लाख लोग मर चुके है बीते 2 महीनों में. केंद्र की ओर इशारा करते हुए सिसोदिया ने कहा कि आपने कोविड की बीमारी के दौरान कुम्भ कराया, बेड़ा गर्क कर दिया है आपने.

error: Content is protected !!