मंडी के एक निजी अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर का दस रुपये का ऑनलाइन रिचार्ज करवा कर शातिर ने उनके बैंक खाते से उड़ाए 1.98 हजार रुपए शातिरों ने एक ऐप के माध्यम से निकले । शातिर ने कहा कि आपकी सिम बंद होने वाली है इसलिए आपकी सिम की केवाईसी करनी है। शातिर के द्वारा केवाईसी का झांसा देकर डाक्टर को एक ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा शातिर ने उनसे कहा कि आप को एक मैसेज आएगा जो आपके डेबिट कार्ड के साथ लिंक होगा शातिर जैसे-जैसे डॉक्टर को कहता रहा डॉक्टर वैसा वैसा करता रहा जैसे ही डेबिट कार्ड से संबंधित पूरी जानकारी शातिर को प्राप्त होते ही शातिर ने उनके अकाउंट से ₹1,98000 उड़ा कुछ देर बाद जब डॉक्टर के फोन पर एक मैसेज आया तो डॉक्टर उस मैसेज को देखकर स्तब्ध रह गया कि उनके बैंक के खाते से इतने पैसे निकाल लिए गए हैं। डॉक्टर ने इसकी शिकायत एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री से की है।

क्या कहना है इस मामले पर एसपी मंडी का
एस पी मण्डी शालिनी अग्निहोत्री ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि यह मामला हमारे संज्ञान में आया है।

You have missed these news

error: Content is protected !!