इंटरनेट के इस दौर में इंसान कई बार कुछ ऐसा कर जाता है कि अपने ही शरीर पर ही भारी पड़ जाता है। दरअसल हिमाचल प्रदेश के सोलन जिला के नालागढ़ में एक प्रवासी महिला ने अपने दो बच्चों को पपीते के पत्तों का काढ़ा पिला दिया जिस कारण उनकी मौत हो गई। वही एक की हालत गंभीर बताते हुए उसे स्थानीय अस्पताल से पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है। इस घटना में बताया जा रहा है कि जब बच्चों को कुछ समय पहले बुखार था तो मां ने यूट्यूब पर देखकर पपीते के पत्तों का काढ़ा बनाकर अपने मासूम तीन बच्चों को पिला दिया।

जिस कारण दो की मौत हो गई वहीं एक ही हालात गंभीर बताते हुए उसे चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है। वहीं पुलिस को घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गई और मृतक बच्चों के शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद छानबीन शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के बदायूं के खजुरिया गांव के रहने वाली राम देवी पत्नी स्वर्गीय किशनपाल पिछले कई सालों से नालागढ़ के में रहती है। और महिला मेहनत मजदूरी कर अपनी दो बेटियों और एक बेटे को पाल रही थी। इस यूट्यूब प्रक्रिया के बाद जब बच्चों को काढ़ा पिलाया गया तो एक बेटी और एक बेटे की मौत हो गई है जबकि दूसरी बेटी पीजीआई में भर्ती है।

error: Content is protected !!