Right News

We Know, You Deserve the Truth…

तीन दिन से पति की लाश मांग रही पत्नी, हर अफसर अपनी जिमेवारी से मोड़ रहा मुंह

जालंधर में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। होशियारपुर अड्डा चौक नज़दीक रहने वाली सुमन नामक महिला पिछले 3 दिनों से सिविल अस्पताल में अपने पति की लाश लेने के लिए दर -दर की ठोकरे खा रही है। जानकारी के अनुसार सुमन के पति जसविन्दर को दिल का दौरा पड़ने पर सिविल अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसकी 3 दिन पहले मौत हो गई थी।

महिला 200 मीटर के घेरे में बने सिविल अस्पताल में एक दफ़्तर से दूसरे दफ़्तर के कई चक्कर लगा चुकी है लेकिन कभी कुछ तो कभी कुछ कह दिया जाता था।

यहां यह भी बता दें कि महिला की बेटी का इलाज को लेकर नर्सों के साथ झगड़ा हुआ था और शायद यही बात उसके लिए मुश्किलें पैदा कर रही थी। मौके पर सुमन ने बताया कि पहले उसे कहा गया था कि उसके पति को कोरोना तो नहीं है लेकिन फिर किट लाने को कहने लगे। कभी पर्ची के लिए कहा जाता था तो कभी कुछ कह दिया जाता था। एक से दूसरे दफ़्तर भेज दिया जाता था।

मीडिया के सामने भी अफसरों और क्लर्कों का रवैया तल्ख ही था। सभी अपनी ज़िम्मेदारी से भागते नज़र आए। सिविल सर्जन बलवंत सिंह भी हमदर्दी दिखाने की बजाए मैडीकल सुपरीटेडैंट का कार्य क्षेत्र होने की बात कहते रहे लेकिन जब बताया कि उनके क्लर्क ने सिविल सर्जन को मिलने के लिए कहा है तो अपने क्लर्क को बुला कर जानकारी ली लेकिन फिर भी मैडीकल सुपरीटेंडैंट के साथ मिलने को कहा। हालांकि बाद में अफसरों ने लाश सुमन के हवाले करने को कह दिया।

error: Content is protected !!