नादौन की बिना मास्क वाली लड़की ने बस में किया हंगामा,

Read Time:4 Minute, 34 Second

नादौन बस अड्डा पर रविवार सुबह उस समय अजीबोगरीब स्थिति उत्पन्न हो गई, जब निगम की बस में सफर कर रही एक छात्रा चालक व परिचालक से उलझ पड़ी। लाख समझाने के बाद भी जब लड़की नहीं मानी, तो बस चालक बस को ही थाने ले गया। ऊना से कांगड़ा जा रही बस के चालक तारा चंद ने बताया कि उक्त लड़की ऊना से कांगड़ा के लिए बस में सवार हुई थी। तारा चंद व परिचालक राकेश कुमार ने बताया कि लड़की ने मास्क नहीं लगाया था। जब उसे मास्क लगाने के लिए कहा गया, तो वह भड़क गई।

वहीं जब उसे बताया कि बस में दो व तीन नंबर सीट पर बैठने की मनाही है, तो वह जिद करके उसी सीट पर बैठ गई और उनसे झगड़ा करने लगी। हालांकि परिचालक ने उसे चालक के पीछे वाली सीट नंबर चार, पांच, छह पर बिठाया, परंतु वह वहां बैठने के लिए तैयार नहीं हुई।

इसी बात को लेकर आरंभ हुआ झगड़ा नादौन तक पहुंच गया। चालक के अनुसार लड़की शिष्टाचार से बात नहीं कर रही थी और बार-बार कह रही थी कि उसके पिता बड़े अधिकारी हैं। वहीं बस में बैठी सवारियां भी चालक और परिचालक के पक्ष में खड़ी हो गई। उन्होंने भी आरोप लगाया कि लड़की के व्यवहार के कारण बस में बैठी हुई सवारियों को भी काफी परेशानी हुई है। इस दौरान जब लड़की को थाना में बस से उतारा गया, तो उसने मास्क पहन लिया और वह चालक के पीछे वाली सीट पर भी बैठने को तैयार हो गई। उसने बताया कि वह दो दिन से ट्रेन में सफर करके आ रही है और बीमारी के कारण मास्क नहीं लगा रही है। जब पुलिस ने समझाया, तो वह चालक के पीछे वाली सीट पर बैठने के लिए तैयार हो गई। पुलिस के समझाने बुझाने के बाद ही बस को वहां से रवाना किया गया। सवारियों को करीब एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा, जबकि बस में छोटे-छोटे बच्चे भी सवार थे।

क्या कहते हैं थाना प्रभारी नीरज राणा
थाना प्रभारी नीरज राणा ने बताया कि लड़की को समझा कर बस को आगे भेजा दिया गया है।

Get news delivered directly to your inbox.

Join 875 other subscribers

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!