HoneyTrap: 50 लाख मांगने वाली महिला कांस्टेबल ने लगाए कई बार रेप करने के आरोप

Read Time:5 Minute, 4 Second

जयपुर में एक महीने पुराने हनीट्रैप के शिकार RPS अफसर आरोपी महिला हेड कांस्टेबल के मामले में नया मोड़ सामने आया है. महिला हेड कांस्टेबल ने जेल से जमानत पर बाहर निकलते ही अब RPS के खिलाफ दुष्कर्म किए जाने की रिपोर्ट दी है. हेड कांस्टेबल का आरोप है कि RPA(राजस्थान पुलिस अकादमी) में ट्रेनिंग के दौरान RPS ने झांसा देकर दुष्कर्म किया. उसे कई जगह पर ले जाकर रेप करता रहा. उसे चुप रहने की धमकी भी दी. गौरतलब है कि इससे पहले RPS ने भी हेड कांस्टेबल के खिलाफ दुष्कर्म के मुकदमे में फंसाने की धमकियां देकर ब्लैकमेल कर 50 लाख रुपए मांगने का मामला दर्ज कराया था. वह जोधपुर में थी. जिसके बाद शास्त्रीनगर पुलिस ने हेड कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल जयपुर पुलिस ने हेड कांस्टेबल के बयान दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

शास्त्रीनगर थानाधिकारी दिलीप सिंह ने बताया कि हेड कांस्टेबल की करीब 20 दिन पहले जमानत हुई थी. अब उसने जमानत पर आने के बाद रिपोर्ट दर्ज कराई है. हेड कांस्टेबल का कहना है कि 2019 में RPS की ट्रेनिंग RPA में चल रही थी. महिला कांस्टेबल RPA में कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर थी. इस दौरान दोनों की पहचान हुई थी. ट्रेनिंग के दौरान ही RPS ने उसके साथ रेप किया. उसे डरा-धमकाकर जयपुर कोटा में कई बार रेप किया. उसे किसी को बताने पर चुप रहने की धमकी भी दी. अपने अधिकारी होने का रौब दिखाकर डराया धमकाया. इस दौरान महिला कांस्टेबल का प्रमोशन हेड कांस्टेबल के पद पर हो गया. उसके बाद वो जोधपुर में ट्रेनिंग पर चली गई थी.

थानाधिकारी ने बताया कि हेड कांस्टेबल की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है. उसके बयान दर्ज करवा लिए गए है. अब कोर्ट में 164 के बयान दर्ज कराए जाएगें. गिरफ्तार होने के बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया था. RPS ने 3 मई को ब्लैकमेल करनी दी थी रिपोर्ट

RPS ने 3 मई को हेड कांस्टेबल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसमें बताया था कि हेड कांस्टेबल ने अपनी आर्थिक तंगी की कहानी सुनाई. फिर अपनी गाड़ी की किश्त जमा करवाने में असमर्थ होने की बात कहकर मदद मांगी. तब उन्होंने किश्त जमा करवा दी. हेड कांस्टेबल उसके पति ने घरेलू परिस्थितियां कमजोर बताकर मदद के बहाने रुपए उधार लिए. RPS का आरोप है कि पिछले साल अगस्त माह में हेड कांस्टेबल उसके पति के ज्वाइंट खाते में करीब 3 लाख रुपए ऑनलाइन ट्रांसफर किए. आरोप है कि अक्टूबर 2020 में रुपए लौटाने को कहा तब हेड कांस्टेबल ने उसे दुष्कर्म के मुकदमे में फंसाने की धमकी दी कहा कि यदि तुमको केस बदनामी से बचना है तो 10 लाख रुपए दो. तब आरपीएस ने महिला के बैंक खाते में 2.10 लाख रुपए जमा करवाए. इसके बाद भी करीब 50 हजार रुपए उनके खाते में जमा करवाए.

बूंदी एसपी के नाम दुष्कर्म की शिकायत भेजकर 50 लाख मांगे
RPS का कहना है कि हेड कांस्टेबल ने तीन माह पहले एसपी बूंदी के नाम से लिखी एक शिकायत सोशल मीडिया पर भेजी. जिसमें उस पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया गया था. इसके बाद ब्लैकमेल कर पहले 20 लाख रुपए फिर 50 लाख रुपए की डिमांड की. रुपए नहीं देने पर दुष्कर्म का केस दर्ज करवाने की धमकी दी. तब परेशान होकर गत 3 मई को RPS ने जयपुर पहुंचकर हेड कांस्टेबल उसके पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई. जिसमें रुपयों की डिमांड के मैसेज ऑनलाइन रुपयों के ट्रांजेक्शन के सबूत दिए. तब पुलिस ने हेड कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!