Right News

We Know, You Deserve the Truth…

पांच बेटियों के साथ महिला ने की आत्महत्या, पुलिस ने पति को लिया हिरासत में

छत्तीसगढ़ से आत्महत्या का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया. यहां एक मां ने अपनी पांच बेटियों के साथ ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली. सभी के शव पुलिस को गुरुवार सुबह रेलवे ट्रैक पर पड़े मिले. आश्चर्य की बात यह है कि इस दर्दनाक घटना के दौरान महिला का पति घर पर ही शराब पीकर सो रहा था. दोपहर बाद जब उसकी नींद खुली और सारी जानकारी मिली तो बोला- हम तो शराब पीते हैं, लेकिन उसे सोचना चाहिए सब के बारे में. उसे ऐसा करने से पहले बच्चों और घर वालों के बारे में सोचना चाहिए.

बता दें कि पुलिस को नमलीभांठा नहर पुलिस के करीब रेलवे ट्रैक पर कई शव बिखरे मिले. पहचान किए जाने पर महिला के भतीजे ने बताया कि पति के शराब पीने को लेकर दोनों के बीच काफी विवाद होता था.

पुलिस को आशंका है कि इसी बात को लेकर महिला ने इतना खतरनाक कदम उठाया. जांच में जब पुलिस को नाम व पता मालूम चला तो बेमचा पहुंची. पुलिस ने महिला के पति केजराम को हिरासत में ले लिया.

घटना पर पति को नहीं है अफसोस

केजराम ने अपने आप को बचाने के लिए कहा कि वह काफी देर से पत्नी और बच्चों को ढूंढ़ रहा था. उसने कहा कि बुधवार शाम को शराब पीने को लेकर पत्नी से बहस हुई थी. इसके बाद खाना खा कर वह सो गया. जब रात करीब 12 बजे नींद खुली तो कोई नहीं था.

उसने कहा कि मुझे लगा कि सब यही कहीं आस पास होंगे और मैं सो गया. केजराम को इस बात का जरा भी अफसोस नहीं था कि उसकी पत्नी और बच्चे अब इस दुनिया में नहीं है. उसकी बुरी आदतों के चलते उन्होंने ऐसा कठोर कदम उठाया. केजराम ने पुलिस से कहा कि वह आत्महत्या करने चले गए तो इसमें मैं क्या कर सकता हूं.मैंने तो उन्हें खोजा लेकिन वह नहीं मिले.

बेटी की शादी का भी था दबाव

जानकारी के अनुसरा केजराम की पत्नी का नाम उमा (45) था. उसकी बड़ी बेटी 12वीं में पढ़ती थी. छोटी बेटी (9), दो बेटियां 8वीं कक्षा मे थीं जबकि सबसे छोटी बेटी तीसरी कक्षा में पढ़ रही थी. केजराम के मुताबिक बेटी की शादी का भी काफी दबाव था. शादी को लेकर भी झगड़ा कई बार होता था. उसने पुलिस से कहा कि कभी भी बेटियां ही होने को लेकर घर में विवाद नहीं हुआ.

पुलिस ने पति को बनाया मुख्य आरोपी

बताया जा राह है कि आत्महत्या करने वाली महिला कबीर पंथ को मानती थी इसलिए शव का पोस्टमार्टम करके उसे दफना दिया गया. पुलिस ने इस पूरी घटना का जिम्मेदार पति केजराम को मानते हुए मामले का मुख्य आरोपी बनाया है. पुलिस के मुताबिक केजराम के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज हुआ है.


error: Content is protected !!