तहसील बालीचौकी की पंचायत पंजाई ने नशामुक्त पंचायत बनाने को लेकर तहसीलदार बालीचौकी के माध्यम से मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा है। इस दौरान बीडीसी सदस्य व लक्ष्मीबाई महिला मंड़ल की प्रधान लीला देवी की अगुवाई में एक दर्जन महिलाओं ने ज्ञापन सौंपा। तहसीलदार को ज्ञापन देने उपरांत पत्रकारो को जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि पंजाई पंचायत को नशामुक्त बनाने के लिए पंचायत के सामाजिक संगठनों के साथ आम लोगों ने महिम शुरू कर दी है और आम लोगों का भरपूर सहयोग मिल रहा है । उन्होंने कहा कि मामले को लेकर महिला ग्राम सभा में सर्वसहमति से प्रस्ताव पारित कर नशे के खिलाफ आवाज उठाई है।

तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते हुए महिला मंडल की सदस्य

उन्होंने कहा कि पंचायत पंजाई के बस स्टैंड़ में शराब की दुकान खोलने से वहां के युवक व युवतियां इसकी चपेट में आ रहे है और दिन दिहाड़ें शराबियों की तादात बढ़ने से महिलाओं व आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे सामाज पर बहुत ही बुरा असर पड़ रहा है। इस शराब की दुकान से 100 मीटर की दूरी पर स्कूल, बस स्टैंड़, बैंक, पंचायत घर व देवता का मंदिर भी है। जिससे देव सामाज को भी मुश्किलें हो रही है। मामले को लेकर पंचायत व कई सामाजिक संगठनों ने इस शराब की दुकान को बंद करवाने की मुहिम भी शुरू कर दी है और कई बार मामाले को लेकर संबधित विभाग व आपके समक्ष रख चुके है। वही मामले को लेकर उपायुक्त मंड़ी, पुलिस अधिक्षक मंड़ी व संबधित विभाग को भी पत्र लिख कर इस शराब के ठेके को 31 मार्च तक  बंद करने का आग्रह भी किया है।

उन्होने कहा कि यदि विभाग इस दुकान को 31 मार्च तक बंद करवाने के आदेश नही देती है तो दुकान में किसी प्रकार के नुकसान की जिम्मेवारी दुकान के मालिक की होगी। इस अवसर पर लीला  देवी, केसरी देवी, बीना देवी, नागेद्रा देवी, दमोदरी देवी सहित एक दर्जन भी अधिक महिलांए उपस्थित रही। वहीं तससीलदार बालीचैेकी हीरा चंद नलबा ने बताया कि मामले को लेकर जिला उपायुक्त मंड़ी को अवगत करवा दिया है। 

error: Content is protected !!