कुल्लू साइबर सेल ने पकड़ा 25000 ठगने वाला शातिर, बीआरओ अफसर बन कर की थी ठगी

Read Time:4 Minute, 5 Second

ठगी के मामले इन दिनों काफी बढ़ गए हैं और ये लोग दूसरों को ठगने के लिए नए से नए पैंतरे आजमाने लगे हैं। पुलिस थाना मनाली में एक ऐसा ही ठगी का मामला दर्ज हुआ है। शिकायतकर्ता ने बताया कि मनाली से किसी व्यक्ति ने उसे फोन किया और बताया कि वो बीआरओ से रिटायर्ड कर्नल है। बीआरओ (BRO) के बहुत सारे काम देखता है और आजकल बीआरओ में जवानों के लिए और स्टोर के लिए काफी समान की खरीददारी होनी है जिसकी डिमांड बहुत बड़ी रहेगी और अगर आपने वो सामान बेचना है तो आप उससे संपर्क कर सकते हैं।

उसने ये भी कहा कि मैं आपको समान का ठेका दिलवा दूंगा। बातचीत करने और डील करवाने के लिए उस व्यक्ति ने शिकायतकर्ता को दिल्ली से मनाली बुलाया और एक होटल में डील तय हुई। खुद को सेवानिवृत्त कर्नल बताने वाले व्यक्ति ने 25,000 रुपए नकद ले लिए और कहा कि आपको कोटेशन भेजता हूं। इसके बाद वो वहां से रफूचक्कर हो गया। उस दिन के बाद से उसका फोन बंद आने लगा। शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज करते ही साइबर सेल (Kullu Cyber Cell) की मदद ली और साइबर टीम ने आरोपी को मनाली पुलिस के साथ मिलकर धर दबोचा ।

पूछताछ में आरोपी ने कबूल किया कि वह वर्ष 2000 से अलग-अलग राज्यों में ठगी कर चुका है जिसमें मुंबई, पंजाब, चंडीगढ़, मोहाली, उत्तराखंड, हिमाचल में मंडी और कुल्लू में कई लोगों को निशाना बना चुका है। आरोपी ने यह भी बताया कि सबसे पहले इसने ठगी अखबारों में दी गई एड से शुरू की थी। वहां पर बहुत सारे लोगों की डिटेल मिल जाती थी और वो लोगों को फोन करके बड़े ही प्रोफेशनल तरीके से ठगी का शिकार बनाता था। धीरे-धीरे उसने काफी सारी चीजें सीखने के बाद हर घटना के बाद नंबर बदलना शुरू कर दिया। वह लोकेशन भी बदलता था और बड़ी ठगी करने की बजाय छोटी-छोटी ठगी को अंजाम देता था ताकि पुलिस भी मामला दर्ज न करें और अगर कहीं पकड़ा भी जाए तो आपस में ही मामला रफा दफा हो जाए। घटना को अंजाम देने के लिए आरोपी ने कई फर्जी मेल आईडी भी बनाई थी जो बीआरओ के नाम से थी और फर्जी स्टैंप और फर्जी लेटरहेड पेड भी बनाया था। आरोपी से अभी पूछताछ जारी है और उसने बहुत सारी घटनाओ को अंजाम दिया है।

आरोपी के पास से कई संदिग्ध वस्तुएं बरामद हुई है जिनकी अभी जांच चली हुई है। आरोपी से कई बैंक खाते एटीएम कार्ड, मोबाइल, सिम कार्ड बरामद हुए हैं जिनके बारे में जांच जारी है। आरोपी पिछले दो वर्षों से जिला कुल्लू में मनाली तथा पतली कुहल के एरिये में रहकर बाहरी राज्यों के लोगों को वहां बुलाकर ठगी का लगातार खेल खेल रहा था और करीब मनाली में ही इसने 20 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया है जो अभी तक की पूछताछ में पता चला है। आरोपी को आज पेश अदालत किया जा रहा है ताकि पुलिस रिमांड हासिल किया जा सके और जितनी भी इसने ठगी की हैं उनके बारे में सही रूप से जानकारी मिल सके।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!