Right News

We Know, You Deserve the Truth…

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पहुंचे चीन से सटे बॉर्डर समदो में, केंद्र सरकार को भेजेंगे रिपोर्ट


RIGHT NEWS INDIA


हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर शनिवार को चीन सीमा से सटे समदो बॉर्डर की टोल लेने पहुंचे। बॉर्डर के अचानक दौरे के दौरान मुख्यमंत्री आईटीबीपी, डोगरा स्काउट्स और बिहार रेजिमेंट के सैनिकों से मिले और वहां की गतिविधियों का जायजा लिया। मुख्यमंत्री अब इसकी रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेजेंगे। बॉर्डर की तमाम गतिविधियों का जायजा लेने के बाद मुख्यमंत्री आईटीबीपी मैदान रिकांगपिओ पहुंचे। यहां उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि समदो क्षेत्र जहां हमारी सीमा के साथ तिब्बत (चीन) की सीमा लगती है का दौरा किया है। बॉर्डर पर तमाम गतिविधियों को उन्होंने जाना है। उन्होंने राष्ट्र की सीमाओं की रक्षा में सेना के जवानों की भूमिका की सराहना की।

सीएम ने कहा है कि कठिन भौगोलिक और कठोर जलवायु परिस्थितियों के बावजूद सेना की प्रतिबद्धता और कुशल कर्तव्यनिष्ठा के कारण ही सीमाएं सुरक्षित हैं। वे निडरता से जीवन जीने में सक्षम हैं।

उन्होंने कहा कि सेना के जवानों की ओर से दी जा रही सेवाएं सभी के लिए प्रेरणा की स्रोत हैं। जयराम ठाकुर ने प्रदेश में कोविड संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे कार्य की जानकारी भी दी। सीएम ने कहा कि प्रदेश में लगभग पिछले एक सप्ताह से कोरोना के मामलों में गिरावट आई है। अप्रैल में जहां प्रदेश में एक्टिव केस 40,000 से अधिक थे, वे अब घटकर लगभग 18 हजार रह गए हैं।मुख्यमंत्री ने कहा कि मामलों में कमी के बावजूद मृत्यु के आंकड़ों में बढ़ोतरी हुई है, जो कि चिंता का विषय है।

उन्होंने कहा कि कोविड के दूसरे दौर में संक्रमण बड़ी तेजी से फैला है। इसमें मौतें भी बड़ी ज्यादा हुई हैं। प्रदेश में कोविड मामलों को लेकर पहले जो बेड कैपेसिटी 1200 थी, आज 5000 तक कर दी है। प्रदेश में पहले 50 वेंटिलेटर थे, वे आज लगभग 700 हैं । पहले आईजीएमसी शिमला में एकमात्र ऑक्सीजन संप्रेसन का प्लांट था, लेकिन अब प्रदेश में थोडे़ ही समय में सात ऑक्सीजन प्लांट हो गए हैं और दो पर काम चल रहा है।

यदि हम ऑक्सीजन सिलिंडरों की बात करें तो पहले जहां हमारे पास लगभग 2200 सिलेंडर थे, वे अब लगभग 7000 डी टाइप सिलिंडर हैं। प्रदेश में कोविड के कुल मरीजों में 85 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में हैं, जिनके लिए किट का प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किन्नौर और लाहौल स्पीति जिले में कोरोना संक्रमण कम है। लाहौल-स्पीति के लोगों का धन्यवाद भी करता हूं, जिन्होंने संक्रमण रोकने के लिए कोविड-19 के निर्देशों का कड़ाई से पालन किया है। स्पीति में 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन हो गई है। इस अवसर पर जनजातीय विकास मंत्री डॉ. राम लाल मारकंडा, पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू, सेक्टर कमांडर ब्रिगेडियर पराग नांगागरे, कमांडिंग अधिकारी डोगरा स्काउट्स नितिन मित्तल, 15वीं बिहार रेजिमेंट के कर्नल प्रणव अवस्थी और अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

व्यापारियों के आग्रह पर दुकानें खोलने का लिया निर्णय : जयराम
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि व्यापारियों ने आग्रह किया था कि दुकानें बंद रहने से हमारा बहुत नुकसान हो रहा है, जिससे सभी दुकानों को चरणबद्ध तरीके से खोला जाए। इस पर प्रदेश सरकार ने 31 मई से प्रदेश में सभी दुकानों को खोलने की अनुमति दे दी है, लेकिन उसमें भी सभी व्यापारी वर्ग को कोविड-19 के निर्देशों का कड़ाई से पालना करना होगा। इसके अतिरिक्त सरकारी कार्यालयों में भी कर्मचारी अब 30 प्रतिशत उपस्थिति के हिसाब से आएंगे। सीएम ने कहा कि कोविड का दौर खत्म होने के बाद किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिले का दौरा किया जाएगा। यहां पर विकासात्मक कार्यों को गति दी जाएगी।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


error: Content is protected !!