जयराम ठाकुर ने हिमाचल में रेलवे प्रोजेक्टों को गति देना का रेल मंत्री से किया आग्रह, अनुराग ठाकुर भी रहे मौजूद

नई दिल्ली। हिमाचल के सीएम जय राम ठाकुर ( CM Jai Ram Thakur)ने आज नई दिल्ली में केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ( Union Railway Minister Ashwini Vaishnav)के साथ बैठक की। इस बैठक में केंद्रीय खेल, सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर(Anurag Thakur) भी मौजूद थे।

सीएम ने केंद्रीय रेल मंत्री से राज्य में रेल नेटवर्क के विस्तार का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भानुपल्ली-बिलासपुर रेल लाइन( Bhanupally-Bilaspur rail line) पर काम को गति देने के प्रयास किए हैं ताकि इसे जल्द पूरा किया जा सके। उन्होंने केंद्रीय मंत्री से इस रेलवे लाइन पर काम में तेजी लाने का अनुरोध किया और कहा कि लेह तक इस लाइन का विस्तार रणनीतिक दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने अवगत कराया कि लाइन पर पूर्ण सर्वेक्षण समाप्त हो गया है और इस मामले में आगे की कार्रवाई की जानी चाहिए।

जय राम ठाकुर ने बद्दी-चंडीगढ़ रेल लाइन पर तत्काल कार्य प्रारंभ करने का भी अनुरोध किया क्योंकि हिमाचल प्रदेश की ओर से भूमि अधिग्रहण का कार्य किया जा चुका है। यह बद्दी-अमृतसर-कोलकाता गलियारे से जुड़ने और राज्य के औद्योगिक क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देने में सहायक होगा। उन्होंने बद्दी की ओर से काम शुरू करने का आग्रह किया क्योंकि सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने जगाधरी- पांवटा साहिब रेलवे लाइन पर सर्वेक्षण करने का भी अनुरोध किया, जो काला अंब औद्योगिक क्षेत्र को बद्दी-अमृतसर-कोलकाता कॉरिडोर से जोड़ने में मदद करेगा।

सीएम जयराम ने रेल मंत्री से कालका- शिमला रेलवे ट्रैक को अपग्रेड करने का भी आग्रह किया क्योंकि ट्रेन की गति बहुत धीमी है और कहा कि ट्रेन में नए कोच जोड़े जाने चाहिए क्योंकि मौजूदा कोच बहुत पुराने हैं।

उन्होंने पर्यटन को बढ़ावा देने और अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए राज्य की विरासत को प्रदर्शित करने के लिए कालका-शिमला मार्ग पर अत्याधुनिक ट्रेन शुरू करने का सुझाव दिया। जयराम ने जोगिंदर नगर और ऊना-हमीरपुर रेल लाइन के बारे में भी चर्चा की। केंद्रीय रेल मंत्री ने सीएम को भानुपल्ली-बिलासपुर रेल लाइन को शीघ्र पूरा करने के लिए राशि बढ़ाने का आश्वासन दिया। उन्होंने अत्याधुनिक ट्रेन को पीपीपी मोड में शुरू करने का प्रस्ताव भेजने को भी कहा। उन्होंने कहा कि राज्य की मांगों को पूरा करने की संभावनाएं तलाशी जाएंगी। उन्होंने यह भी बताया कि मंत्रालय जल्द ही ऊना-हमीरपुर रेल लाइन पर प्रस्ताव राज्य को भेजेगा। बैठक में अनुराग ठाकुर ने भी अपने बहुमूल्य सुझाव दिये और ऊना-हमीरपुर रेल लाइन पर शीघ्र कार्रवाई करने का आग्रह किया.बैठक में मुख्य सचिव राम सुभग सिंह और प्रमुख रेजिडेंट कमिश्नर सुशील कुमार सिंगला भी मौजूद थे.

SHARE THE NEWS:
error: Content is protected !!