Mandi By Election: मंडी कौन होगा चुनावी उम्मीदवार, जानिए कांग्रेस भाजपा के संभावित दावेदारों ने नाम

मंडी। Mandi By Election, मंडी संसदीय क्षेत्र के उपचुनाव की तिथि तय होते ही बैंड बाजा व बराती सज कर तैयार हो गए हैं। बरात आगे बढ़ाने के लिए अब सिर्फ दूल्हों (प्रत्याशियों) का इंतजार है।

भाजपा व कांग्रेस में उम्मीदवार तय करने को लेकर पहले भी कई दौर का मंडी, शिमला व दिल्ली में मंथन हो चुका है। दो अक्टूबर तक दोनों दल प्रत्याशी के नाम का एलान कर सकते हैं। कांग्रेस की तरफ से पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह का नाम लगभग तय माना जा रहा है। भाजपा में अभी जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर व शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर के बीच गेम फंसी है। भाजपा यहां इन दोनों के अलावा किसी अन्य नेता को भी टिकट थमा सकती है। छह अक्टूबर तक श्राद्ध पर्व है। श्राद्ध के दौरान नामांकन होने की संभावना बहुत कम है। सात व आठ अक्टूबर को भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशी नामांकन पत्र दाखिल कर सकते हैं। सात अक्टूबर तक शारदीय नवरात्र शुरू हो रहे हैं।

छह जिलों में फैला है मंडी संसदीय क्षेत्र

मंडी संसदीय क्षेत्र छह जिलों मंडी, कुल्लू, लाहुल-स्पीति, किन्नौर, शिमला व चंबा के 17 विधानसभा क्षेत्रों में फैला हुआ है। 2019 के लोकसभा चुनाव में यहां 17 प्रत्याशियों ने किस्मत आजमाई थी। भाजपा को 69.13 व कांग्रेस को 25.82 फीसद मत मिले थे। अन्य 15 उम्मीदवारों के हिस्से मात्र 5.05 प्रतिशत मत आए थे।

पार्टी का निर्णय सर्वमान्‍य : गोविंद

शिक्षा मंत्री गाेविंद ठाकुर का कहना है उपचुनाव में कौन प्रत्याशी होगा। यह पार्टी तय करेगी। मुझे इस पर कुछ नहीं कहना है। पार्टी का जो निर्णय होगा वह सबको सर्वमान्य होगा।

जल्‍द तय होगा प्रत्‍याशी : कौल

वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता कौल सिंह ठाकुर का कहना है कई माह के इंतजार के बाद लोकतांत्रिक प्रक्रिया शुरू हुई है। उपचुनाव की घोषणा पहले हो जानी चाहिए थी, लेकिन प्रदेश सरकार ने गलत रिपोर्ट देकर चुनाव आयोग को गुमराह किया था। अब चुनाव आयोग ने सरकार की एक नहीं सुनी। प्रत्याशी जल्द तय होगा।

दिल्‍ली जा रहे आश्रय शर्मा

मंडी संसदीय क्षेत्र से पूर्व कांग्रेस प्रत्‍याशी आश्रय शर्मा का कहना है मैं दिल्ली जा रहा हूं। वहां प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं से मिलकर अपना पक्ष रखूंगा।

महेश्‍वर ने भी रखा पक्ष

भाजपा नेता एवं पूर्व सांसद महेश्‍वर सिंह का कहना है मैंने अपना पक्ष पार्टी हाईकमान के समक्ष रख दिया है। टिकट को लेकर अंतिम फैसला अब हाईकमान करेगा।

error: Content is protected !!