पालमपुर के विकास को लगा कोरोना का पहला टिका; 90 सुरक्षा कर्मियों को लगेगा फ्री टिका

कोविड-19 वैक्सीनेशन का अभियान आज से प्रारंभ हो गया है। प्रदेश भर में वैक्सीनेशन का कार्य प्रारंभ हो गया है। इसके साथ ही वैक्सीनेशन के अंतर्गत नागरिक चिकित्सालय पालमपुर में सबसे पहले कोविड-19 वैक्सीन लेने वाले सुरक्षाकर्मी विकास ने बताया कि वह इस वैक्सीनेशन को लेकर पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने कहा कि उनके मन में वैक्सीन को लेकर ना किसी प्रकार का भ्रम है और ना ही शंका तथा वह गर्व अनुभव कर रहे हैं कि उन्हें सबसे पहले वैक्सीनेशन लगाई जा रही है। इसके साथ ही सिविल अस्पताल ज्वालामुखी में आज स्वास्थ्य विभाग द्वारा चयनित किए गए 90 स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वायरस वैक्सीन का टीका लगाने की शुरुआत की गई। इसमें सबसे पहले हेल्थ वर्कर कुश लता को पहला इंजेक्शन लगाया गया और उन्होंने बताया कि उन्हें कोई भी डर या भय नही था और वह बिल्कुल खुश थी कि कोरोना वैक्सीन की शुरुआत उनसे हुए।

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रवीण कुमार ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र व प्रदेश सरकार के निर्देश पर 16 जनवरी 2021 को विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना वायरस वैक्सीन के टीके लगाए जा रहे हैं उसी के अंतर्गत ज्वालामुखी सिविल अस्पताल में भी विभाग द्वारा चयनित किए गए 90 स्वास्थ्य कर्मियों को निशुल्क में कोरोना वायरस वैक्सीन के टीके लगाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे सरकार के निर्देश मिलते जाएंगे। उसी के अनुसार निकट भविष्य में अन्य लोगों को भी टीके लगाए जाएंगे और 16 जनवरी को केवल मात्र 90 स्वास्थ्य कर्मियों को ही यह टीके लगेंगे। बीएमओ डॉ प्रवीण कुमार ने भी कोरोना वेक्सीन लगवाई और बेहतर महसूस किया। दूसरी ओर कुल्लु में लैब टेक्नीशियन विक्रम ठाकुर को पहला टीका लगाया गया है। 

Please Share this news:
error: Content is protected !!