उद्धव ठाकरे पर अपमानजनक टिप्पणी मामले में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर विवादित बयान देने के बाद से ही नारायण राणे राज्य सरकार के निशाने पर थे.

नारायण राणे को चिपलून से हिरासत में लिया गया है, पुलिस के मुताबिक उन्हें गिरफ्तार करने के प्रक्रिया जारी है.

नारायण राणे के खिलाफ अबतक 4 एफआईआर दर्ज हो गई हैं, जबकि रत्नागिरी कोर्ट द्वारा उनकी अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया है. साथ ही बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी नारायण राणे की अपील सुनने से इनकार कर दिया.

नारायण राणे के खिलाफ शहर-शहर हुआ प्रदर्शन

मंगलवार सुबह से ही नारायण राणे के खिलाफ शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था. नासिक में भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर पर पत्थरबाजी की गई थी. केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता नारायण राणे के बयान पर विवाद होने के बाद ये घटना सामने आई थी. सिर्फ नासिक ही नहीं बल्कि अब मुंबई, अमरावती, रत्नागिरी समेत कई शहरों में नारायण राणे के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है.

अग्रिम जमानत की याचिका हुई थी खारिज

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे द्वारा रत्नागिरी कोर्ट में दायर की गई अग्रिम जमानत की याचिका अदालत द्वारा खारिज कर दी गई है. नारायण राणे के खिलाफ चार एफआईआर दर्ज हैं और पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने की तैयारी में है. नासिक पुलिस कमिश्नर दीपक पांडे का कहना है कि उनकी टीम दो घंटे में चिपलून तक पहुंचेगी. उन्होंने एसपी रत्नागिरी को निर्देश दिया है कि नारायण राणे को कस्टडी में लिया जाए.

एक तरफ नारायण राणे के खिलाफ शिवसेवा कार्यकर्ताओं का गुस्सा दिख रहा है, तो उनके बेटे और विधायक नितेश राणे ने महाराष्ट्र पुलिस पर आरोप लगाया है. नितेश राणे का कहना है कि रत्नागिरी के पास उन्हें रोका गया, पुलिस ने उन्हें पीटने की धमकी दी है.

फडणवीस ने साधा निशाना

शिवसेना कार्यकर्ताओं द्वारा बीजेपी के दफ्तरों पर हमला करने को लेकर देवेंद्र फडणवीस भड़क गए हैं. देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि सभी पुलिस कमिश्नरों को अपने-अपने इलाकों में उन लोगों को गिरफ्तार करना चाहिए, जिन्होंने बीजेपी के दफ्तरों पर हमला किया है. राज्य में कानून का राज होना चाहिए, ये कोई तालिबान नहीं है.

# | Maharashtra: A group of Shiv Sena workers pelt stones at BJP party office in Nashik & raise slogans against Union Minister Narayan Rane.

The Union Minister and BJP leader had given a statement against CM Uddhav Thackeray yesterday. pic.twitter.com/Y3A3cWZbTa

मुख्यमंत्री को लेकर दिए गए बयान पर बवाल

दरअसल, नारायण राणे ने हाल ही में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर एक बयान दिया था. इस बयान में उन्होंने ठाकरे की आलोचना करने के साथ ही उन्हें ‘थप्पड़’ तक मारने की बात कह डाली थी. राणे के इस बयान के बाद उन पर एफआईआर दर्ज की गई है.

# | Maharashtra: A clash breaks out amid Shiv Sena workers, BJP workers and Police in Mumbai as Shiv Sena workers marched towards Union Minister Narayan Rane’s residence.

Union Minister Narayan Rane had given a statement against CM Uddhav Thackeray yesterday. pic.twitter.com/TezjDGGqAb

जिसके बाद आज नासिक पुलिस राणे की गिरफ्तारी के लिए रत्नागिरी जा रही है. नासिक पुलिस कमिश्नर ने दीपक पांडे ने नारायण राणे की गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं जिसके बाद पुलिस टीम वहां के लिए निकली है.

उधर, नारायण राणे पर शिवसेना कार्यकर्ताओं का गुस्सा भी देखने को मिला है. बताया जा रहा है कि नासिक में बीजेपी दफ्तर पर पत्थरबाजी की गई है. पत्थरबाजी की तस्वीरें भी सामने आई हैं. आरोप है कि शिवसेना कार्यकर्ताओं ने ये पत्थरबाजी कर अपना गुस्सा जाहिर किया है.

राणे ने रायगढ़ में दिया था ये बयान

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने बीजेपी की जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान रायगढ़ में ये बयान दिया था, जिस पर विवाद हो रहा है. राणे ने कहा था कि सीएम उद्धव ठाकरे ये भूल गए थे कि देश कब आजाद हुआ था और साल भूलने के बाद उन्होंने अपने सहयोगी से पूछा था.

नारायण राणे ने कहा था, ‘ये शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को ये नहीं पता कि हमें आजाद हुए कितने साल हो गए. अपने भाषण के दौरान उन्होंने पीछे मुड़कर अपने सहयोगी से पूछा था. अगर मैं वहा होता तो उन्हें जोरदार थप्पड़ मारता.’

इस बयान के लिए राणे के खिलाफ चार अलग-अलग थानों में एफआईआर दर्ज की गई है. जिसके बाद आज नासिक पुलिस उनकी गिरफ्तारी करने की तैयारी कर रही है.

error: Content is protected !!