दो ट्रकों की भीषण टक्कर से लगी आग में बेटे के सामने जिन्दा जला ड्राइवर

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 में बुधवार सुबह दो ट्रकों में भीषण टक्कर हो गई, जिससे एक ट्रक धू-धूकर जल गया, जबकि केबिन में फंसे चालक की जलने से मौत हो गई। घटना के बाद हाइवे पर काफी देर तक जाम लगा रहा। छोटे बड़े वाहन जहां के तहां खड़े हो गए। सूचना पाते ही फायर बिग्रेड और पुलिस मौके पर पहुंची। गैस कटर मशीन से ट्रक का अगला हिस्सा काटकर चालक के शव को बाहर निकाला जा सका। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

पड़ोसी जनपद के कबरई से गिट्टी लादकर आ रहे ट्रक की हमीरपुर जिले के मौदहा कोतवाली क्षेत्र के मकरांव के पास कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 पर सामने से आ रहे ट्रक से सीधी टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि गिट्टी से लोड ट्रक में आग लग गई, जिसमें ट्रक चालक महाराजगंज निवासी रामाधार (62) पुत्र पलक वर्मा ट्रक की केबिन में फंस जाने से जिंदा जलकर मौत हो गई, जबकि खलासी के रूप में अपने पिता के साथ चल रहे विवेक (22) पुत्र रामाधार घायल हो गए।

हादसे के बाद मोरम भरे ट्रक का चालक और खलासी मौके से भाग गया। सूचना पाते ही कोतवाली पुलिस और फायर बिग्रेड भी मौके पर पहुंची। जब तक आग बुझाई जाती, तब तक ट्रक पूरी तरह से जल चुका था। पुलिस ने गैस कटर मशीन से ट्रक को काटकर चालक के शव को बाहर निकाला और पंचनामा भरकर उसे पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया। हादसे का कारण चालक के नींद में झपकी लेना बताया जा रहा है। प्रभारी निरीक्षक तारा सिंह पटेल ने बताया कि हादसा बड़ा ही वीभत्स था। गैस कटर से ट्रक की बाडी काटकर चालक का शव बाहर निकाला गया है। बताया कि हादसे के बाद दूसरे ट्रक का चालक और खलासी फरार हो गए हैं। दोनों की तलाश की जा रही है।

आग की लपटों में पिता को जिंदा जलते देख चिल्लाता रहा खलासी
टक्कर के बाद जैसे ही गिट्टी भरे ट्रक में आग लगी तो चालक रामाधार वर्मा केबिन में ही फंस गए, जबकि खलासी के रूप में उसके बगल में बैठा पुत्र विवेक सड़क पर गिरकर मामूली रूप से घायल हो गया। उसके गिरते ही ट्रक में आग लग गई। जब तक वह कुछ समझ पाता कि ट्रक आग का गोला बन गया। पिता को आग में जिंदा जलते देख वह मदद को खूब चिल्लाता रहा। जब तक फायर बिग्रेड मौके पर आई, तब तक बहुत देर हो चुकी थी। पिता का जला शव देख पुत्र बदहवाश है। हाइवे में आग की लपटें देख दोनों तरफ वाहन जहां के तहां रुक गए।

error: Content is protected !!