ट्रांसमिशन टावर लाइन धरना आज 13वे दिन में प्रवेश कर गया; कब मिलेगा किसानों को न्याय

दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में श्री नैना देवी जी विधानसभा के जुखाला में चल रहा धरना प्रदर्शन आज ट्रांसमिशन लाइनों के प्रभावितों विस्थापित किसानों का धरना 13 दिन में प्रवेश कर गया है।
मंच के राष्ट्रीय संयोजक तथा भारतीय किसान यूनियन के हिमाचल संयोजक अधिवक्ता व सामाजिक कार्यकर्ता रजनीश शर्मा ने जानकारी दी कि मंच के किसान दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े है। क्योंकि अब यह आंदोलन राष्ट्रीय स्तर से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंच चुका है तथा सभी लोग एक स्वर में कृषि अध्याय देशों को वापिस लेने हेतु जायज मांग उठा रहे हैं।

रजनीश शर्मा ने बताया कि 13 जनवरी को जुखाला में संयुक्त किसान मोर्चा हिमाचल प्रदेश द्वारा आयोजित धरने में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय संयोजक व किसान नेता युद्धवीर सिंह विशेष रूप से पहुंचकर अपना समर्थन देंगे।

इसके साथ मंच के राष्ट्रीय कानूनी सलाहकार अमर सिंह सांख्यान व किसान नेता भी किसानों की आवाज को राष्ट्रीय स्तर पर बुलंद करने हेतु पहुंच रहे हैं। जिसमें प्रदेश के सैकड़ों ट्रांसमिशन लाइन प्रभावित हिस्सा लेंगे। इसके साथ ही पिछले लगभग 6 वर्षों से ट्रांसमिशन प्रभावित किसानों को मदद करने वाले विभिन्न प्रगतिशील व तकनीकी तौर पर मदद करने वाले सभी सामाजिक कार्यकर्ताओं को भी आमंत्रित किया गया है। जो हिमाचल प्रदेश में विभिन्न किसान संगठनों के माध्यम से किसानों की आवाज व शोषण के खिलाफ कार्य कर रहे सभी संगठनों को तौर पर आमंत्रित किया गया है। ताकि हिमाचल के किसानों की सभी समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर एकजुट होकर उठाया जा सके।

उन्होंने हिमाचल प्रदेश के लाखों ट्रांसमिशन लाइन प्रभावित व विस्थापित किसानों तथा अन्य किसान संगठनों से इस ऐतिहासिक अवसर पर राष्ट्रीय स्तर पर किसान आंदोलन को मजबूत करने हेतु जुड़ने का आह्वान किया है और पिछले कई वर्षों से तकनीकी कानूनी व सामाजिक परिवेश में ट्रांसमिशन लाइनों की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों में आम जनजीवन किस प्रकार अस्त व्यस्त हो रहा है बारे भी मंच का सहयोग करते आए हैं।

जिला प्रधान बाबू राम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के सभी ट्रांसमिशन लाइन प्रभावित किसान दिल्ली में कड़ाके की ठंड में आंदोलनरत किसानों द्वारा उठाई जा रही मांग के समर्थन में कृषि अध्यादेश को तुरंत देश हित व किसान हित में वापस लिए जाने की मांग का अनुमोदन करते हैं।
आज धरने पर बैठे, रीनू, पारुल, सुनीता, फूलकली, सोनू, गोगी ठाकुर, मोना ठाकुर, रीना ठाकुर, हरि सिंह, प्रेम लाल, प्रकाश ठाकुर, रूप लाल, हीरा लाल, बालक राम शर्मा, ध्रुव, करण इत्यादि भी मौजूद रहे।

Please Share this news:
error: Content is protected !!