बॉर्डर पर स्थिति अस्थिर, शॉर्ट नोटिस पर तैयार रहे सेना- राजनाथ सिंह

नेशनल डेस्क: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भविष्य की लड़ाइयों में वायु सेना की भूमिका को बेहद महत्वपूर्ण बताते हुए आज कहा कि उसे अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी के बल पर अपनी क्षमता को और अधिक बढ़ाने की जरूरत है। राजनाथ ने बुधवार को यहां वायु सेना के शीर्ष कमांडरों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए उच्च स्तर की तैयारियों, तुरंत कार्रवाई करने के लिए तैयार रहने की क्षमता तथा अभियानों के दौरान एवं शांतिकाल में अव्वल दर्जे के पेशेवर रुख के साथ काम करने के लिए वायु सेना की सराहना की।

रक्षा मंत्री ने सीमाओं पर विस्फोटक स्थिति का उल्लेख करते हुए कहा कि सशस्त्र सेनाओं को ‘शार्ट नोटिस’ पर आपात स्थितियों से निपटने के लिए तैयार रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वायु सेना को कृत्रिम बौद्धिकता, बिग डाटा हैंडलिंग और मशीन लर्निंग जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी के बल पर अपनी ताकत को बढ़ाने की जरूरत है।

error: Content is protected !!