सुप्रीम कोर्ट के दरवाजे पर इंसाफ के लिए खुद को आग लगाने वाली बलात्कार पीड़िता की मौत

उत्तर प्रदेश की मऊ लोकसभा सीट से बसपा सांसद अतुल राय पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती की इलाज के दौरान मौत हो गई। बता दें, पीड़िता ने अपने दोस्त के साथ दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के गेट के बाहर खुद को आग लगा ली थी। युवती के दोस्त की इलाज के दौरान पहले ही मौत हो गई थी। वहीं, अब युवती ने भी दम तोड़ दिया।वहीं, मंगलवार की सुबह युवती ने भी दम तोड़ दिया। डॉक्टरों ने बताया कि पीड़िता को बचाने की बहुत कोशिश हुई, लेकिन सेप्टीसीमिया होने के कारण उसकी हालत बिगड़ती चली गई थी। मंगलवार की सुबह करीब साढ़े दस बजे उसकी मौत हो गई।

जेल में बंद हैं सांसद अतुल राय

लोकसभा चुनाव से पहले एक मई 2019 को बलिया जिले की रहने वाली युवती ने लंका थाने में बसपा सांसद अतुल राय के खिलाफ रेप सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज कराया था। 22 जून 2019 को सांसद अतुल राय ने वाराणसी की कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। इस मामले में अतुल राय प्रयागराज के नैनी जेल में बंद हैं। बीते दिनों युवती और उसके दोस्त ने फेसबुक लाइव के जरिए आरोप लगाया कि सभी मिलकर उसे ही चरित्रहीन साबित करने और सांसद अतुल राय को बचाने की कोशिश में लगे हैं। फेसबुक लाइव पर युवती और उसके दोस्त ने प्रदेश के कई पुलिस अधिकारियों सहित कुछ अन्य लोगों पर परेशान करने और दबाव बनाने का भी आरोप लगाया था।

युवती और उसके दोस्त के खिलाफ जारी हुआ था वारंट

दरअसल, सांसद अतुल राय ने भी युवती पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था। इसके अलावा पीड़िता के साथ ही रेप मामले में गवाह गाजीपुर के सत्यम राय के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करा दिया। बीते 2 अगस्त को युवती और उसके दोस्त सत्यम राय की गिरफ्तारी के लिए वारंट भी जारी हुआ था। इसके बाद युवती ने सत्यम राय के साथ फेसबुक लाइव किया और बनारस के तत्कालीन एसएसपी अमित पाठक समेत कई अधिकारियों पर संगीन आरोप लगाए।

सुप्रीम कोर्ट के बाहर लगाई आग, दोनों की मौत

इस बीच 16 अगस्त को युवती और उसका दोस्त सत्यम राय सुप्रीम कोर्ट के सामने पहुंचे और फेसबुक लाइव करते हुए पेट्रोल छीड़ककर आग लगा ली। दोनों को गंभीर हालत में राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 21 अगस्त को सत्यम ने दम तोड़ दिया। वहीं, मंगलवार की सुबह पीड़ित युवती की भी मौत हो गई।

error: Content is protected !!