एफआईआर दर्ज करने गए लड़की से थानेदार ने की बदतमीजी, कहा, अपने बाप को बुलाओ

पटनाः राजधानी पटना के सचिवालय थाने में अगर एफआईआर दर्ज कराने या आवेदन देने आते हैं तो जरा संभल जाइए. यहां का थानेदार ऐसा है कि आपको पुलिसिया रौब से सामना करना पड़ सकता है. ये हम नहीं कह रहे बल्कि सचिवालय थाना के प्रभारी सीपी गुप्ता का वीडियो ही सब कुछ कह रहा है. वायरल वीडियो में ना सिर्फ थानेदार ने रौब दिखाया है बल्कि एक महिला से बदतमीजी से बात की और बंद (हवालात में) करने तक की धमकी दे दी.

क्या है पूरा मामला ?

बताया जाता है कि सचिवालय के गेट नंबर दो के पास एक लड़की का मोबाइल कुछ बदमाशों ने छीन लिया था. इसके बाद पीड़ित लड़की इस संबंध में शिकायत करने के लिए थाने पहुंची थी. यहां लड़की ने आवेदन तो दिया लेकिन वह रिसीविंग के लिए रुकी रही. इसपर उसे कहा गया कि अभी नहीं मिलेगा. जब पीड़िता रिसीविंग लेने की बात पर अड़ी रही तो थानेदार सीपी गुप्ता आग बबूला हो गया. इस दौरान उसने लड़की के साथ अपमानजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया.

थानेदार सीपी गुप्ता यहीं नहीं रुका बल्कि थाने से भगाने तक की बात कह दी. पीड़िता ने कहा कि उसका यह हक है तो सीधे जवाब मिला कि बंद करो इसको. थानेदार ने तेवर कहा- “जिसे बुलाना है बुलाओ न.. अपने बाप को भी बुला लो.” हालांकि वीडियो में पीछे से किसी महिला अधिकारी की भी आवाज आ रही है. वो समझा रही हैं.

थानेदार ने नहीं दिया कोई जवाब

इस मामले में थानेदार से पक्ष जानने के लिए एबीपी न्यूज ने फोन किया तो एक लाइन में कह दिया कि जो भी बात करना है लड़की से की जाए. यह कहकर फोन काट दिया. इस वीडियो को लेकर कांग्रेस के प्रवक्ता असित नाथ तिवारी (Asit Nath Tiwary) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को आड़े हाथों लेते हुए ट्वीट किया. लिखा- “यही बिहार की सच्चाई है जिस पर आप (नीतीश कुमार) बहुत करीने से पर्दा डाल लेते हैं.”

Please Share this news:
error: Content is protected !!