अब ‘राम’ पार लगाएंगे तेजस एक्सप्रेस की नैया, अयोध्या तक चलाई जा सकती है ट्रेन

लखनऊ-दिल्ली और अहमदाबाद-मुंबई के बीच दोनों तेजस एक्सप्रेस को 17 अक्तूबर से शुरू किया गया था, लेकिन यात्रियों की कम संख्या को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने 23 नवंबर से अगले आदेश तक इसकी सभी सेवाओं को रद्द करने का फैसला किया..

कोविड 19 के चलते यात्री नहीं मिलने से बंद हुई तेजस एक्सप्रेस की नैया अब ‘प्रभु राम’ पार लगाएंगे। नई दिल्ली से लखनऊ तक चलने वाली इस पहली कॉरपोरेट ट्रेन को अयोध्या तक जोड़ने की तैयारी हो रही है। इसे लेकर रेलवे बोर्ड के अधिकारियों और उत्तर रेलवे के मुख्यालय के बीच मंथन का दौर भी शुरू हो गया है।

जानकारी के अनुसार, रेलवे इस ट्रेन को दोबारा शुरू करने पर विचार-विमर्श कर रहा है। इस दौरान इस ट्रेन को चारबाग होकर बारांबकी के रास्ते अयोध्या तक ले जाने की भी चर्चा हो रही है। इसे लेकर अधिकारियों द्वारा ट्रेन के समय में बदलाव, ठहराव, और रखरखाव जैसे बिंदुओं पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है। जल्द ही ट्रेन के विस्तार को मंजूरी मिल सकती है।

रेल मंत्रालय के सार्वजनिक उपक्रम इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) द्वारा तेजस एक्सप्रेस को चलाया जाता है। नई दिल्ली से लखनऊ के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस 4 अक्तूबर 2019 में शुरू हुई थी। वहीं अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस का संचालन 19 जनवरी 2020 में शुरू हुआ था।

Please Share this news:
error: Content is protected !!