लुधियाना में हो गई थी शादी की तैयारी, दुल्हन की मां रखी अजीब शर्त और शादी टूट गई

रिश्ता पक्का होने के बाद शादी के कार्ड व डिब्बे बंट गए। 27 मई को आनंद कारज होने वाला था। इसी बीच दुल्हन की मां ने शर्त रख दी कि लड़का अपना मकान बेच कर नई जगह ले। उस मकान की रजिस्ट्री उसके नाम करवाई जाए। ऐसा नहीं करने पर शादी नहीं होगी। इतना बोल कर उसने शादी तोड़ दी।

दुल्हन की मां ने लड़के को पुश्‍तैनी घर बेच कर नया मकान लड़की के नाम करने की रख दी शर्त

समराला चौक स्थित गुरु अर्जुन देव नगर गली नंबर 10 निवासी रविंदर पाल सिंह उर्फ बाबा बर्गर वाला पिछले साल इस बात के लिए चर्चा में आया था कि वह बाबा दीप सिंह गुरुद्वारा साहिब के बाहर उन बच्चों को फ्री बर्गर खिलाता था जो उसे पाठ पढ़ कर सुनाते थे।

उसी रविंदर पाल ने बताया कि वह गुरु सिख है। कुछ समय पहले फेसबुक पर तलाकशुदा गुुरु सिख महिला के साथ उसकी पहचान हुई थी। दोनों के बीच प्यार हो गया। 13 जून को लड़की मां के साथ उनके घर आई।

शादी के लिए 27 जून रखा था दिन

रिश्ता तय कर शादी के लिए 27 जून दिन रखा गया। इसी बीच 15 जून को लड़की की मां फिर से उनके घर आई। उसने कहा कि गुरु अर्जुन देव नगर इलाका ठीक नहीं है। आप लोग अपना मकान बेच कर गिल नहर के आस पास कहीं ले लो। उन्होंने उसकी बात मान ली। उस दिन के बाद वह मंगेतर के साथ शिमलापुरी इलाके में मकान ढूंढता रहा। उसने मंगेतर को 40 हजार रुपये से अधिक की खरीदारी भी करवाई। हमने कार्ड बांट दिए। रिश्तेदारों को बुला लिया। रविंदर ने आरोप लगाया कि दो दिन पहले मंगेतर की मां फिर से उनके घर आई। उसने कहा आप जहां भी नया मकान लेंगे। उसकी रजिस्ट्री उसके (दुल्‍हन के) नाम करनी होगी। हम इस बात पर राजी नहीं थे। इस बात पर वह यह बोलकर चली गई कि अब यह शादी नहीं होगी।

थानों में दर्ज नहीं की गई शिकायत

रविंदर ने आरोप लगाया कि वह पहले शिकायत लेकर थाना डिवीजन नंबर दो की पुलिस के पास गया लेकिन उसे थाना डिवीजन नंबर सात में भेज दिया गया। दोनों थानों में उसकी शिकायत दर्ज नहीं की गई। वहीं एसएचओ सतबीर सिंह का कहना है कि उनके संज्ञान में यह मामला नहीं है। शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई जरूर की जाएगी।

Share This News:

Get delivered directly to your inbox.

Join 61,615 other subscribers

error: Content is protected !!