तीन बिसवा जमीन के लिए हैण्डपम्प के हैंडल से कर दी मां की हत्या, आरोप गिरफ्तार


RIGHT NEWS INDIA


बक्शाखेड़ा में शुक्रवार रात तीन बिसवा जमीन के लिए सियाराम ने मां महराजा (75) की हैंडपम्प के हैंडल से हमला करके हत्या कर दी। मां की हत्या करने के बाद हत्यारोपी बोरी में शव भर कर सड़क किनारे फेंक कर बहन के घर पहुंच गया। उसने बहन सुखरानी से मां की तबीयत खराब होने की बात कही। मायके में कदम रखते ही फर्श पर खून बिखरा देख सुखरानी की चीख निकल गई। सुखरानी की सूचना पर पुलिस ने शव बरामद करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

बेटे के लिए खाने पर कर रही थी इंतजार

ठेलिया चालक सियाराम शराब पीने का आदी थी। शुक्रवार सुबह वह काम पर जाने की बात कह कर निकला था। शाम को सियाराम नशे की हालत में घर पहुंचा था। वह घर के बाहर ही ट्राली पर लेट कर आने-जाने वालों को गाली देने लगा। बेटे की आवाज सुन कर मां उसे खाने के लिए बुलाने गई थी। सियाराम ने मां को गाली देकर भगा दिया। रात करीब एक बजे पड़ोसी सियाराम को घर पहुंचा गया था। मां ने बेटे से पड़ोसियों को गाली देने पर एतराज जताया। इस पर सियाराम आपा खो बैठा। उसने हैंडपम्प का हैंडल उठा कर मां के सिर पर ताबड़तोड़ कई वार कर दिए। महराजा दर्द से चीख उठीं। बेटे से बचने के लिए उन्होंने भागने का प्रयास किया। इस पर सियाराम ने मां के बाल पकड़ कर जमीन पर पटक दिया। जिससे महराजा वहीं निढाल हो कर गिर गईं। मां की हत्या करने के बाद सियारात उनका शव ठिकाने लगाने की तैयारी करने लगा। देर रात उसने ट्राली पर मां का शव लादा और एक किमी दूर जाकर फेंक आया।

दीदी बीमारी से मां मर गई है

नगराम के अम्बेडकरनगर में रहने वाली महराजा की बेटी सुखरानी के घर शनिवार तड़के सियाराम पहुंच गया। उसके कपड़ों पर खून लगा था। सियाराम ने बहन को बताया कि तबीयत बिगड़ने से मां की मौत हो गई है। इस पर सुखरानी बेटे को साथ लेकर मायके पहुंच गई। घर में घुसते ही उसे मां की टूटी हुई चूड़ियां, फर्श पर बिखरा खून और मां के बाल नजर आए। उसने सियाराम से मां के बारे में पूछा। कोई जवाब नहीं मिलने पर वह चिल्लाने लगी। इस बीच मौका पाकर सियाराम भाग निकला। सुखरानी बेटे को साथ लेकर मोहनलालगंज कोतवाली पहुंच गई। मोहनलालगंज तहसील के पास पहुंचने पर उसे भीड़ नजर आई। पूछताछ करने पर पता चला कि बोरी में महिला का शव पड़ा मिला है। पास जाकर देखने पर सुखरानी ने शव की पहचान मां महराजा के तौर पर की।

मां मेरे नाम कर दो जमीन

इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्र के मुताबिक महराजा के नाम पर तीन बिसवा जमीन थी। जिससे उसका गुजारा होता था। सियाराम मां पर जमीन बेचने का दबाव बना रहा था। यह बात महराजा ने बेटियों को भी बताई थी। वहीं, सुखरानी के मुताबिक सियाराम ने जमीन के लालच में मां की हत्या की है। इंस्पेक्टर के अनुसार सियारात 22 साल पहले पड़ोसी जगदीश की हत्या कर जेल भी जा चुका है।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


Please Share this news:
error: Content is protected !!