DSP Nude Video: सिपाही ने बनाया महिला डीएसपी का नहाते हुए वीडियो, फिर की पांच लाख की डिमांड

पुलिस महकमे से जुड़ी एक ऐसी खबर सामने आई है, जो काफी हैरान करने वाली है. दरअसल एक महिला डीएसपी ने अपने सिपाही बॉडीगार्ड के ऊपर बड़ा संगीन आरोप लगाया है.

महिला डीएसपी का आरोप है कि जब वह बाथरूम में नहा रही थी. तब सिपाही ने बाथरूम के दरवाजे के नीचे से मोबाइल लगाकर उनका अश्लील वीडियो बना लिया. महिला डीएसपी ने इस घटना को लेकर थाने में शिकायत भी की है.

मामला भोपाल का है. यहां राजधानी में पोस्टेड 31 साल की महिला डीएसपी और और हेडक्वार्टर एसपी रामजी श्रीवास्तव पर मारपीट के आरोप वाले मामले में नया मोड़ सामने आया है. जिस सिपाही ने महिला डीएसपी और हेडक्वार्टर एसपी रामजी श्रीवास्तव पर मारपीट का आरोप लगाया, उसी सिपाही पर महिला डीएसपी ने भी अब केस कर दिया है. महिला डीएसपी का आरोप है कि सिपाही ने बाथरूम में नहाते समय उनका न्यूड वीडियो बना लिया.

क्राइम ब्रांच ने महिला डीएसपी की शिकायत पर सिपाही के खिलाफ छेड़खानी, जबरन घर में घुसकर तांकझांक करने समेत आइटी एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. महिला डीएसपी का आरोप है कि आरक्षक ने 22 सितंबर को छुपकर उनका नहाते समय वीडियो बनाया और बाद में ब्लैकमेल कर पांच लाख रुपये की मांग करने लगा. इतना ही नहीं आरोपी बॉडीगार्ड ने शंकि भी दी है कि अगर 5 लाख रुपये नहीं दिए तो वह वीडियो वायरल कर देगा.

महिला डीएसपी की शिकायत के बाद थाने में एफआईआर दर्ज हो गई है. आवेदन के मुताबिक महिला डीएसपी जब नहा रही थी तब आरोपी ने बाथरूम के दरवाजे के नीचे मोबाइल कैमरा लगाकर वीडियो बनाया. अचानक मोबाइल कैमरे की क्लिक की आवाज से शक हुआ तो दरवाजा खोला और सिपाही भूपेंद्र सिंह भागता हुआ दिखा. शिकायत के मुताबिक यह घटना 22 सितम्बर की है. उसके बाद 26 सितंबर को 11 बजे भूपेंद सिंह महिला अधिकारी के आवास पर पहुंचा और आरोपी मे पांच लाख रुपए की मांग की. रुपये नहीं देने पर बाथरूम का वीडियो दिखाकर वायरल करने की धमकी दी.

गौरतलब है कि भूपेंद्र सिंह जिला पुलिस बल में आरक्षक के पद पर हैं और नेहरू नगर पुलिस लाइन के रहने वाले हैं. बीते एक साल से वह महिला डीएसपी के पास सरकारी वाहन चालक के पद पर नौकरी कर रहे थे. भूपेंद्र सिंह ने बताया कि 22 सितंबर की बात है. वह ड्यूटी पर तैनात थे तब उक्‍त महिला अधिकारी ने उनके हाथ से उनका मोबाइल और अन्‍य सामान छीन लिया. इसकी शिकायत करते वह एसपी (मुख्यालय) रामजी श्रीवास्तव के कार्यालय पर पहुंचे. उसी शाम क्राइम ब्रांच के तीन पुलिसकर्मी वहां आये और बोले कि साहब तुम्‍हें बुला रहे हैं. उसके बाद वह एसपी के सरकारी बंगले पर पहुंच गए. वहीं एसपी और डीएसपी ने उसके साथ काफी मारपीट की. साथ ही निलंबित करने की भी धमकी दी. अधिकारियों के पिटाई के बाद खौंफ के कारण वह तीन दिन तक शिकायत करने की हिम्‍मत नहीं जुटा पाया.

गौरतलब हो कि तीन दिन बाद सिपाही ने हबीबगंज थाने में मारपीट की शिकायत दर्ज करवायी थी. जिस सिपाही के ऊपर महिला डीएसपी ने यह गंभीर आरोप लगाया है, उस सिपाही ने ही पहले महिला अधिकारी और हेडक्वार्टर एसपी रामजी श्रीवास्तव पर डंडे से मारपीट कर बुरी तरह जख्मी करने का आरोप लगाया था. सिपाही के शरीर पर मारपीट के निशान भी नजर आ रहे हैं.

सिपाही का कहना है कि मेरे साथ ऐसा बर्ताव क्‍यों किया गया समझ में नही आ रहा. वहीं इस मामले में आरोपी एसपी का कहना है कि सिपाही ऐसा आरोप क्‍यों लगा रहा है. मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है. जबकि महिला अधिकारी की शिकायत पर सिपाही को निलंबित किया गया था. अब महिला डीएसपी ने साइबर थाने में आरक्षक के खिलाफ अश्लील वीडियो बनाने और ब्लैकमेल करने की शिकायत दर्ज करा दी है. ये मामला दर्ज होने के बाद आरोपी आरक्षक फरार हो गया है.

error: Content is protected !!