बिना घर से बाहर निकले सोशल मीडिया प्रचार से बनी प्रधान; विरोधी को 92 वोट से हराया

पंचायती चुनावों में जहां प्रत्याक्षियों द्वारा घर-घर जाकर प्रचार किया गया था लेकिन फिर भी उनको हार का सामना करना पड़ा। हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के धर्मशाला में एक कोरोना पॉजिटिव उम्मीदवार बिना घर से बाहर निकले सोशल मीडिया पर प्रचार करके प्रधान पद पर विजय हासिल कर ली। धर्मशाला की शीला-भटेहड़ पंचायत में एक महिला ने प्रधान पद के लिए नामांकन भरा हुआ था और प्रचार के दौरान कोविड टेस्ट करवाया तो उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। और महिला पर घर-घर प्रचार करने के लिए प्रतिबंध लग गया। उम्मीदवार सुमन बाला का कहना है कि उन्हे उम्मीद नहीं थी कि जनता उन पर इतना विश्वास करती है।

उनका कहना है कि उनके पिता ने प्रचार किया था। लेकिन वह कोरोना संक्रमित होने के कारण घर-घर प्रचार नहीं कर पाए। सुमन बाला ने 873 में से 347 वोट लेकर दूसरी प्रत्याशी को 92 मतों से हराया है। सुमन बाला का कहना है कि उन्होंने अपने घर से सोशल मीडिया पर प्रचार किया था। और अपने मोबाईल फोन से हर सोशल मीडिया प्रलेटफॉम पर हर दिन प्रचार करती रही। और लोगों ने भी काफी समर्थन किया हुआ था। सुमन बाला ने कहा कि अगर वह कोरोना संक्रमित न होतीं तो घर-घर जाकर लोगों से बात कर सकती थीं।

Please Share this news:
error: Content is protected !!