केरल में आरएसएस के 26 वर्षीय कार्यकर्ता की हत्या, एसडीपीआई सदस्यों पर लगा आरोप

तिरुअनंतपुरम, आइएएनएस। पल्लकड़ जिले के एल्लापुल्ली में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी आफ इंडिया (एसडीपीआइ) के सदस्यों ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के 26 वर्षीय कार्यकर्ता संजीत की हत्या कर दी।

सोमवार सुबह नौ बजे पत्नी के साथ मोटरसाइकिल से जा रहे संजीत पर चार लोगों ने हमला कर दिया। घटनास्थल पर पुलिस टीम पहुंच गई है और जांच शुरू कर दी गई है।

संजीत को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनकी जान नहीं बचाई जा सकी। इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भाजपा के पलक्कड़ जिला अध्यक्ष केएम हरिदास ने इसे एसडीपीआइ द्वारा सुनियोजित तरीके से की गई राजनीतिक हत्या करार दिया है। उन्होंने कहा, ‘संजीत जिस समय पत्नी के साथ जा रहे थे उसी दौरान उन्हें रोका गया और क्रूरतापूर्वक हमला किया गया। एसडीपीआइ को राज्य में सत्ताधारी पार्टी का समर्थन हासिल है।’

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आरोप लगाया कि हमलावरों ने आरएसएस कार्यकर्ता के वाहन का पीछा किया और फिर उनके दोपहिया वाहन को टक्कर मार दी। संजीत के सड़क पर गिरने के बाद उनकी पत्नी के सामने उनकी हत्या कर दी गई। इस घटना को लेकर पुलिस ने बताया कि आरोपियों की तलाश जारी है, जो घटना के बाद मौके से फरार हो गए थे।

एसडीपीआइ ने 10 दिन के भीतर यह दूसरी हत्या की: केरल भाजपा

एएनआइ के मुताबिक, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के. सुरेंद्रन ने आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की निंदा करते हुए आरोप लगाया कि माकपा दोषियों को शह दे रही है। एसडीपीआइ ने 10 दिन के भीतर यह दूसरी हत्या की है। पूरे राज्य में एसडीपीआइ और माकपा के बीच अपवित्र गठबंधन या आपसी सहमति है। उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से आरोपितों को कठघरे में लाने का आग्रह किया। प्रेट्र के मुताबिक, पुलिस ने कहा कि एसडीपीआइ इस्लामिक संगठन पोपुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआइ) से जुड़ा है। हमले के बाद आरोपित घटनास्थल से फरार हो गए।

Please Share this news:
error: Content is protected !!