एससी आयोग ने दलितों पर आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्टू को भेजा नोटिस

‘पवित्र सीटों’ वाली टिप्पणी से विवाद पैदा करने वाले कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू को पंजाब अनुसूचित जाति आयोग ने सम्मन भेजकर 22 जून को उसके समक्ष उपस्थित होने को कहा है.

गौरतलब है कि विधायक पवन कुमार टीनू के नेतृत्व में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रतिनिधिमंडल ने लुधियाना के सांसद के खिलाफ दलितों के लिए कथित रूप से जातीय टिप्पणी करने की शिकायत दर्ज करायी थी.

इसी के आधार पर आयोग ने सम्मन जारी किया है.

कथित रूप से दलितों का अपमान किया है- विपक्षी दल

पंजाब बीजेपी अध्यक्ष अश्वनी शर्मा के नेतृत्व में पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग (एनसीएससी) में शिकायत दर्ज करायी है. विपक्षी दलों ने मंगलवार को इस मामले में बिट्टू की आलोचना करते हुए कहा कि उन्होंने यह कह कर कि शिअद ने आनंदपुर साहिब और चमकौर साहिब जैसी पवित्र सीटें अपने सहयोगी दल बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के लिए छोड़ दी हैं, कथित रूप से दलितों का अपमान किया है.

आयोग ने मामले की जांच करने का निर्णय लिया- तेजीन्दर कौर

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर शिअद-बीएसपी गठबंधन के साथ उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो पोस्ट कर उस पर टिप्पणी की थी. पंजाब अनुसूचित जाति आयोग की अध्यक्ष तेजीन्दर कौर ने बुधवार को कहा कि आयोग को इस संबंध में पवन कुमार टीनू से शिकायत प्राप्त हुई है.

तेजीन्दर कौर ने यहां एक बयान में कहा कि आयोग ने मामले की जांच करने का निर्णय लिया है और बिट्टू से 22 जून को सुबह 11:30 बजे उपस्थित होने को कहा है. शिअद के प्रतिनिधिमंडल ने राज्य अनुसूचित जाति आयोग की अध्यक्ष को बिट्टू के वीडियो के बारे में बताया कि जिसमें उन्होंने कथित रूप से दलित समुदाय के लिए ”आपत्तिजनक” टिप्पणी की है. शिष्टमंडल ने कौर से अनुरोध किया कि आयोग इस मामले में तुरंत कदम उठाए ताकि राज्य में किसी भी प्रकार की अशांति/अप्रिय घटना को रोका जा सके.

बीएसपी और बीजेपी सहित अन्य दलों ने भी टिप्पणी की आलोचना

बीएसपी और बीजेपी सहित अन्य दलों ने भी बिट्टू की टिप्पणी की आलोचना की है. पंजाब बीजेपी के अध्यक्ष अश्वनी शर्मा और जीवन गुप्ता सहित पार्टी के अन्य नेताओं ने लुधियाना से सांसद बिट्टू की आलोचना की और जातीय टिप्पणी करके दलित समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया.

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला के साथ बैठक में पंजाब बीजेपी के नेताओं ने बिट्टू के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की.

error: Content is protected !!