IT Raids in Hyderabad: हैदराबाद में फार्मास्युटिकल कंपनी में मिला 142 करोड़ रुपये कैश और 550 करोड़ की अघोषित संपत्ति

आयकर विभाग ने हाल ही में हैदराबाद स्थित हेटेरो फार्मास्युटिकल समूह पर छापेमारी की। इस छापेमारी में 550 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति का पता चला है। हैरानी वाली बात यह है कि छापेमारी के बाद विभाग को 142 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश बरामद हुआ है।

आयकर विभाग ने यह छापा 6 अक्टूबर को आधा दर्जन राज्यों में करीब 50 स्थानों पर मारा था। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा, ‘तलाशी के दौरान, कई बैंक लॉकर मिले हैं, जिनमें से 16 लॉकर संचालित किए गए थे। तलाशी में अब तक 142.87 करोड़ रुपये की अघोषित कैश जब्त किया गया है।’

अघोषित आय का चला पता
बयान में कहा गया है, ‘अब तक सामने आई बेहिसाब आय करीब 550 करोड़ रुपये के आसपास होने का अनुमान है। अधिकारियों ने बताया कि आगे की जांच और अघोषित आय का पता लगाया जा रहा है।

विदेशों में भी है कंपनी का व्यापार

आयकर विभाग के लिए नीति तैयार करने वाले सीबीडीटी ने कहा कि समूह इंटरमीडिएट की मैन्युफैक्चरिंग, सक्रिय फार्मास्युटिकल सामग्री (एपीआई) और फॉर्मूलेशन का निर्माण करता है। अधिकांश उत्पादों को अमेरिका और दुबई जैसे देशों और कुछ अफ्रीकी और यूरोपीय देशों को निर्यात किया जाता है।

रुपयों के कई फर्जीवाड़े आए सामने
विभाग ने बताया कि फर्जी और गैर-मौजूद संस्थाओं से की गई खरीद में विसंगतियों और व्यय के कुछ शीर्षों की कृत्रिम मुद्रास्फीति से संबंधित मुद्दों का पता चला था। इसके अलावा, भूमि की खरीद के लिए नगद भुगतान के सबूत भी पाए गए है। कई अन्य कानूनी मुद्दों का पता चला है।

error: Content is protected !!