पुलवामा हमले में शहीद हुए मेजर की पत्नी भी हुई आर्मी में शामिल, लेफ्टिनेंट के पद पर हुई नियुक्त


RIGHT NEWS INDIA


साल 2019 में हुए पुलवामा आतंकी हमले को कौन भूल सकता है, वो काला दिन आज भी देश के उस दर्द को याद दिलाता है, जब हमारे जवानों की शहादत हुई थी। देश के लिए शहीद हुए जवानों में से एक थे मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल, जिनकी पत्नी निकिता कौल ने आज भारतीय सेना ज्वाइन कर ली हैं। निकिता कौल ने पहले सेना की परीक्षा पास की, फिर उसके बाद ट्रेनिंग की और आज वो भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनीं हैं।

तमिलनाडु के चेन्नई ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में पासिंग आउट परेड के दौरान लेफ्टिनेंट नितिका कौल ढौंढियाल पर सबकी नजर थीं। रक्षा मंत्रालय के पीआरओ उधमपुर ने ट्वीट करते हुए बताया कि मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल ने 2019 में पुलवामा में सर्वोच्च बलिदान दिया था।

आज उनकी पत्नी नितिका कौल ने भारतीय सेना की वर्दी पहनकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

सेना में शामिल होने के बाद शहीद मेजर की पत्नी ने बताया कि मैंने उसी यात्रा का अनुभव किया है, जिससे उनके पति गुजरे हैं। उन्होंने कहा कि वो हमेशा मेरे जीवन का हिस्सा बनने जा रहे हैं।

शादी के 10 महीने बाद शहीद हुए पति

आपको बता दें कि जब मेजर शहीद हुए थे, जब उनकी शादी को मात्र 10 महीने ही हुए थे। अप्रैल 2019 में दोनों की पहली मैरिज एनिवर्सिरी थी। उस दौरान जब शहीद मेजर ढौंडियाल की पार्थिव देह को तिरंगे में लपेटकर देहरादून लाया गया था, तब उनके अंतिम दर्शन में पत्नी निकिता ने उनको सैल्यूट कर अंतिम अलविदा कहा था। तभी से ही उन्होंने सेना में जाने का दृढ़ निश्चय कर लिया था।

मल्टी नेशनल कंपनी की छोड़ी जॉब

नितिका कौल उस वक्त मल्टी नेशनल कंपनी एचसीएल नोएडा में जॉब करती थीं। अपने पति की शहादत ने उनका हौसला नहीं टूटा और सितंबर 2019 में निकिता कौल ने शार्ट सर्विस कमीशन (SSC) का फार्म भरा और एग्जाम पास कर इंटरव्यू की तैयारी की, जिसके बाद आज उन्होंने अपनी ऑफिसर ट्रेनिंग की पूरी की और अब आर्मी में शामिल हो गईं।


Advertise with US: +1 (470) 977-6808 (WhatsApp Only)


Please Share this news:
error: Content is protected !!