मंदिर में पुजारी और पुजारिन की बेरहमी से हत्या, खून से लथपथ मिली लाशें

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले में दोहरे हत्याकांड से हड़कंप मच गया है. जहां एक मंदिर में रहने वाले पुजारी और एक पूजारिन को निर्दयता से मौत के घाट उतार दिया है. दोनों की खून से लथपथ लाशें मंदिर परिसर से मिली हैं. दोहरे हत्याकांड की ये वारदात इंडो नेपाल बॉर्डर के सीमावर्ती थानाक्षेत्र महदेईया की है. जहां नेपाल के रहने वाले 68 वर्षीय महिला पुजारी पिछले 25 वर्षीय कारण देवी मंदिर में रहकर पूजा अर्चन करती थी. 23 साल की पुजारी रामरतन मिश्र भी मंदिर में पूजा का काम करता था. वह र्महदेईया गांव के ही निवासी था.

ग्रामीणों के अनुसार, नेपाल धकधईया चेनपुरवा की रहने वाली 68 वर्षीय महिला कलावती देवी विगत 25 वर्षों से मंदिर में पुजारी के तौर पर रहा करती थी. दोनों का व्यवहार बहुत शालीन था. इन दोनों के क़त्ल की सूचना मिलते ही जिले के पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता भी मौके पर पहुंच गए. जांच पड़ताल के लिए फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को भी मौके पर बुलाया गया.

इस घटना को लेकर पुलिस गाँव वालों से पूछताछ कर रही है. किन्तु अभी तक हत्या की वजह का पता नहीं चल पाया है. थाना परसा मलिक पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पहुंचा दिए हैं. पुलिस अब केस दर्ज कर जांच में जुट गई है. दोनों पुजारियों की हत्या से ग्रामीण बेहद दुखी हैं.

Please Share this news:
error: Content is protected !!