गोरखपुर में पुलिस और गुंडों के बीच दो बार मुठभेड़, दोपहर में शूटर परवेज को मारा

गोरखपुर में रविवार को 24 घंटे के भीतर पुलिस की दो बार मुठभेड़ हुई। एसटीएफ ने दोपहर को एक लाख के इनामी परवेज को मुठभेड़ में मार गिराया तो देर रात को मुठभेड़ में पुलिस ने दो लुटेरों को धर दबोचा। दोनो लुटेरों को गोली लगी है। दोनो को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है।

दो लुटेरों को लगी गोली

ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से दो लाख लाख रुपये लूटने वाले बदमाशों को क्राइम ब्रांच व गुलरिहा थाने की पुलिस ने रविवार की देर रात सरहरी रोड पर घेर लिया। पुलिसकर्मियों के रोकने पर सहजनवां और चिलुआताल क्षेत्र के रहने वाले बदमाश फायरिंग कर भागने लगे।

जवाबी कार्रवाई में पैर में गोली लगने से बाइक लेकर गिर पड़े। पुलिस ने दोनों को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया है।

क्राइम ब्रांच व गुलरिहा पुलिस ने सरहरी रोड पर घेरा

एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि गुलरिहा के जंगल सेमरा निवासी मोहम्मद कयूम जंगल माघी चौराहे पर अयान डिजिटल स्टूडियो एवं ग्राहक सेवा केंद्र चलाते हैं। 31 मई की सुबह केंद्र पर पहुंचे तीन बदमाशों ने कयूम को असलहा सटाकर बैग में रखे दो लाख रुपये लूट लिए। लूट का केस दर्ज कर क्राइम ब्रांच व गुलरिहा पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही थी।रविवार की रात में 12 बजे सूचना मिली कि लूट करने वाले बदमाश सरहरी रोड पर किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है।

लुटेरों के पास से पिस्टल व तमंचा बरामद

सूचना के आधार पर टीम ने घेराबंदी कर मुठभेड़ में बदमाशों को दबोच लिया। उनकी पहचान चिलुआताल के रामपुर चक निवासी गौरव और सरहरी के घघसरा निवासी संतोष के रुप में हुई। उनके पास से .32बोर की एक पिस्टल व 315 बोर का एक तमंचा और घटना में इस्तेमाल हुई बाइक बरामद हुई।

एक लाख के इनामी परवेज मुठभेड़ में ढेर

इसके पहले एसटीएफ ने दोपहर में माफिया खान मुबारक के शूटर व एक लाख के इनामी परवेज को गोरखपुर चिलुआताल क्षेत्र के चिउटहा पुल पर घेर लिया। परवेज ने टीम पर फायरिंग कर भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस की जवाबी कार्रवाई में मारा गया। परवेज का एक साथी भाग निकला, जिसकी तलाश चल रही है।


error: Content is protected !!