21 साल बाद लिया भाई की मौत का बदला, सुहैल ने कासिम की हत्या, जाने क्या है पूरा मामला

जाफराबाद इलाके में 25 मई को कासिम नामक कारोबारी की हत्या गैंगस्टर हाशिम बाबा गिरोह के बदमाशों ने की थी। पांच बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया था, जिसमें दो नाबालिग हैं। पुलिस ने इस मामले में सुहैल नामक युवक को गिरफ्तार किया है। सुहैल ने सन 2000 में अपने भाई की हत्या का बदला लेने के लिए कासिम को मौत के घाट उतारा है।

पुलिस को पता चला है कि कासिम ने सुहैल के भाई तहसीन की वर्ष 2000 में हत्या की थी। इस मामले में कासिम जेल गया था, लेकिन कुछ वक्त बाद जमानत पर बाहर आ गया था। सुहैल उस समय महज सात वर्ष का था, तभी से उसके मन में इंतकाम की ज्वाला जल रही थी। सन 2013 में सुहैल ने कासिम के एक साथी पर जानलेवा हमला किया था, लेकिन वह बच गया था।

पुलिस को पता चला हाशिम बाबा ने कुछ वक्त के लिए सुहैल की चप्पल फैक्ट्री में काम किया था।

स्पेशल सेल ने हाशिम बाबा पर मकोका लगाया और 2020 मुठभेड़ में हाशिम को गिरफ्तार कर लिया। कासिम की हत्या के लिए सुहैल ने जेल में बंद हाशिम बाबा से मदद मांगी और हाशिम ने अपने दो शार्प शूटर शाहरुख और डैनी व दो नाबालिग को हथियार मुहैया कराए और हत्या करवाई। साल 2020 में उत्तर प्रदेश पुलिस ने गैंगस्टर शक्ति नायडू को फरवरी 2020 में मेरठ में ढेर कर दिया था, उसके बाद इसके गिरोह के बदमाशों ने हाशिम बाबा से हाथ मिला लिया था। कासिम की हत्या में शामिल शाहरुख कई हत्या के मामले में वांछित है।


Please Share this news:
error: Content is protected !!