बच्चों के सामने पत्नी को सब्बर से उतारा मौत के घाट, पुलिस के आने पर कबूला गुनाह

कौशांबी जनपद में मंगलवार सुबह कोखराज थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव में कमरे के अंदर बिस्तर पर महिला का शव तथा बगल में उसके पति को बेसुध पड़ा और बच्चों को रोते देख लोग सन्न रह गए । आनन-फानन में इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने घटना स्थल पर छानबीन के बाद पति से पूछताछ की तो उसने लोहे की राड से पत्नी के कत्ल का गुनाह कुबूल लिया। उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

बच्चों के रोने पर पहुंचे पड़ोसी तो नजारा देख घबराए

जलालपुर गांव में रहने वाला राकेश पुत्र शिवमोहन पत्नी 32 वर्षीय पत्नी लक्ष्मी और दो बच्चों छह साल के बेटे रंजीत और साल भर की बेटी रोशनी के साथ खेती और मजदूरी के जरिए गुजारा कर रहा था।

मंगलवार की सुबह आसपास रहने वाले लोगों ने बच्चों के रोने की आवाज सुनकर अंदर जाकर देखा तो उनके पैरों की तले की जमीन खिसक गई। चारपाई पर लक्ष्मी का रक्तरंजित शव पड़ा था। उसके माथे पर धारदार चीज से वार करने का गहरा घाव था। पति राकेश बगल में बेहोशी की हालत में पड़ा था। कमरे में बच्चे अनहोनी से बेखबर इस वजह से रो रहे थे कि माता–पिता बिस्तर से उठ नहीं रहे। यह देखकर ग्रामीणों ने तत्काल कोखराज थाने की पुलिस को सूचना दी । कुछ देर में मौके पर शहजादपुर प्रभारी राकेश शर्मा आए।

पहले किया नाटक फिर कुबूला पत्नी के खून का जुर्म

कमरे में छानबीन के बाद आसपास के लोगों से बात की गई। छह साल के बेटे से भी घटना के बारे में पूछा गया। घटनास्थल पर एएसपी समर बहादुर ने भी जाकर जांच की। पड़ोसियों ने बताया कि राकेश और उसकी पत्नी लक्ष्मी के बीच अक्सर झगड़ा होता था। शक जताया कि पति ने ही पत्नी को सब्बर से मारकर मौत के घाट उतार दिया तथा खुद को बचाने के लिए नाटक कर रहा है। पुलिस ने राकेश से सख्ती से पूछताछ की तो उसने कुबूल लिया कि झगड़े के दौरान तैश में आकर लक्ष्मी पर सब्बर से प्रहार किया जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई।


error: Content is protected !!