पब्जी के चक्कर में मारा गया 22 साल का युवक, गलतफहमी के चलते प्रयागराज में हुआ मर्डर

UP News: पब्जी आनलाइन गेम फिर घातक साबित हुआ है। इस गेम के चक्कर में ही एक युवक का कत्ल हो गया। शहर से कुछ किलोमीटर दूर झूंसी इलाके के केशवापुर गांव में छींटाकशी करने पर दो गुटों के बीच खून खराबा हो गया। घातक हमले में एक युुवक की मौत हो गई जबकि एक अन्य जख्मी है। इस घटना के बाद गांव में तनाव व्याप्त है। पुलिस दस्ते को वहां तैनात किया गया है ताकि फिर से टकराव नहीं हो सके।

गेम खेलते झगड़े रहे थे तभी युवतियों को हो गई गफलत

केशवापुर गांव निवासी ज्ञान सिंह फूलपुर विधायक प्रवीण पटेल के निवास पर चौकीदारी करता है। ज्ञान का बेटा 22 साल का नितिन सिंह बुधवार रात आशीष औऱ हिमांशु के साथ गांव के बाहर स्थित नहर की पुलिया पर बैठा था।

वहां सभी मोबाइल पर पब्जी खेल रहे थे। उसी समय शौच कर लौट रही दो युवतियां अपने घर जा रही थी। पब्जी खेल रहे युवकों के बीच आपस में की जा रही गाली गलौज को युवतियों ने खुद के लिए समझा और घर जाकर इसकी शिकायत परिवार के लोगों से कर दी। युवती के परिवार के लोग पब्जी खेल रहे नितिन के घर पहुंचे और उलाहना देकर लौट गए। इसके बाद नितिन की मां ने उसे बुलाकर डांटा फटकारा। तैश में आकर नितिन दोस्त आशीष के साथ उस युवती के घर पहुंच गया। वहां दोनों पक्षों में विवाद हो गया। नितिन के घरवालों के मुताबिक युवती के परिवार जनों ने ईंट पत्थर व डंडे से उसे बेरहमी से मारा पीटा। गंभीर चोटों की वजह से वह अचेत हो गया। आशीष के सिर में गंभीर चोटें आई। चीख-पुकार सुनकर गांव के लोग पहुंचे तो फिर नितिन और आशीष के परिवार को खबर मिली। वे आकर नितिन तथा आशीष को अस्पताल ले गए। वहां नितिनन को मृत घोषित कर दिया गया। इस बवाल की सूचना मिली तो पुलिस वहां पहुंची। दो समुदाय के बीच झगड़े और कत्ल की खबर पर कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी भी आ गए। गांव में दो वर्ग में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात कर दी गई।

इकलौते बेटे की मौत से गहरा आघात

मृतक नितिन माता-पिता का इकलौता बेटा था। वह दुर्जनपुर स्थित एक पेट्रोल पंप पर सेल्समैन था। इस मामले में नितिन के पिता की तहरीर पर एक दर्जन नामजद लोगों के खिलाफ रिपोर्ट लिखकर कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। नितिन के पिता के मुताबिक वह पेट्रोल पंप से घर लौट रहा था तभी आरोपितों ने लाठी डंडे व रस्सी से मारा। वह किसी तरह घर पहुचा और अचेत हो गया। उसे एसआरएन ले जाया जा रहा था लेकिन रास्ते मे ही उसने दम तोड़ दिया।

error: Content is protected !!