हिमाचल में तीन बच्चों की मां को गर्भवती करके भागा, महिला खोजते खोजते उसके घर बिहार पहुंची

हिमाचल प्रदेश में महिला के साथ धोखाधड़ी का एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि यहां तीन बच्चों की मां के साथ बिहार के रहने वाले शख्स ने पहले तो प्यार का नाटक किया फिर उसके बाद शादी तक कर ली। वहीं, जब महिला प्रेग्नेंट हुई तो उक्त शख्स काम का बहाना बनाकर हिमाचल से बिहार के बेगूसराय भाग गया। जिसके बाद महिला उसे ढूंढते-ढूंढते उसके घर पहुंच गई। 

जहां महिला से लड़के के परिजनों ने दहेज की मांग की। दहेज स्वरूप महिला से 50 हजार रूपय मांगे गए। परिजनों की इस मांग पर महिला ने अपने माता-पिता के गरीब होने की बात बताई। जिसे सुनने के बाद उक्त व्यक्ति के घरवालों ने उसे और उसके तीन बच्चों को घर से बाहर निकाल दिया। इसी बातचीत के दौरान महिला को उसके कथित पति ने बताया कि उसकी शादी कहीं और तय हो गई है। 

वहीं, अब पीड़िता महिला न्याय के लिए महिला थाने में आवेदन देकर पति के साथ रहने की गुहार लगा रही है। इस मामले पर कमरूद्यीनपुर निवासी ललन कुमार की कथित पत्नी तारा देवी ने बताया कि मेरे पति की 30 तारीख को शादी है। शादी में दहेज स्वरूप उसे एक मोटरसाइकिल, 70 हजार रुपए तथा एक तोला सोना मिल रहा है। 

पीड़िता ने महिला थानाध्यक्ष को जानकारी देते हुए बताया कि उसकी खगड़िया में पहली शादी हुई थी। पहले पति से तीन बच्चे हैं। पहला पति उसे छः साल पहले छोड़ गया था, तो वह काम करने के लिए हिमाचल प्रदेश चली गई। वहीं पर वो ललन कुमार से मिली और दोनों के बीच प्यार मोहब्बत का सिलसिला चल पड़ा। तारा ने कहा कि पहले तो ललन ने मुझे धोखे में रखकर शादी की उसके बाद प्रेग्नेंट काम का बहाना बना कर वह मुझे छोड़कर भाग गया।

इस पूरे मामले में महिला थानाध्यक्ष आवन्ती कुमारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जब ललन कुमार को पुलिस थाना पुछताछ के लिए बुलाया गया और इस मामले की पूछताछ की गई तो उसने यह सब कुबूल किया कि तारा के साथ उसने तीन साल रिश्ता निभा कर उसे छोड़ दिया था। फिलहाल, ललन पुलिस कस्टडी में है। वहीं, इस मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने ये भी बताया कि ललन कुमार के परिजनों को बुलाकर बॉन्ड भरवा कर विधिवत महिला को उन्हें सौंप दिया गया है।


Please Share this news:
error: Content is protected !!