दुकान पर लिखा था समान ऑर्डर के लिए कॉल करें, जब कॉल की तो कहा शूटर उठा और अंदर आ जा

उत्तर प्रदेश के बागपत में कोरोना कर्फ्यू के दौरान व्यापार के लिए ग्राहकों को सामान बेचने के लिए अजीबो-गरीब तरीके निकाल लिए हैं। वे ग्राहकों को दुकान के अंदर बुला लेते हैं। इसके बाद बाहर से शटर का ताला लेते हैं। ग्राहक सामान खरीदने के बाद आवाज देता है तो दुकान के बाहर खड़ा व्यक्ति शटर खोलकर उसे निकाल देता है। यह क्रम दिनभर चलता रहता है। पुलिस ने शनिवार को ऐसे पांच दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की।

पुलिस एवं प्रशासन कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कर्फ्यू का पालन करा रहे हैं। इसके लिए गश्त के साथ जगह-जगह पुलिसकर्मी तैनात हैं। इसके बावजूद कुछ कारोबारियों के लिए व्यापार बेहद प्रिय है।

उन्होंने प्रतिष्ठानों के आगे एक-एक व्यक्ति को शटर की चाभी देकर बैठा दिया है। वे ग्राहक को सामान खरीदने के लिए दुकान के अंदर भेज देता है और बाहर से शटर बंद कर देता है।

ऐसे ही अन्य मामले भी सामने आए हैं। क्षेत्र में ही एक बंद दुकान पर लिखा था कि सामान के ऑनलाइन ऑर्डर के लिए इस नंबर पर काॅल करें, ग्राहक ने जब लिखे हुए नंबर पर काॅल किया तो दुकानदान ने कहा कि दुकान का शटर खुला है वह अंदर आकर सामान ले सकता है।

पुलिस ने शनिवार दोपहर बिनौली रोड, संजय मूर्ति, नेहरू मूूर्ति, फूंसवाली मस्जिद, कोताना रोड की तरफ से गुजरी तो भगदड़ मच गई। वहीं, एक दुकान से कई लोग निकलकर भागे, तभी दुकानदार शटर का ताला लगाकर भाग गया।

इस पर अंदर बंद ग्राहक डर गए और शटर खोलने के लिए जोर-जोर से चिल्लाने लगे। इस पर पुलिस उसी दुकान के आगे रुक गई तथा ताला खुलवाया तो अंदर से 7-8 लोग निकले। इस पर पुलिस ने ऐसे पांच दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की।

हो सकता है बड़ा हादसा
दुकान में एक साथ कई ग्राहकों की मौजूदगी रहती है। इससे कोरोना फैलने का खतरा रहता है। ऐसे व्यापारी खुद के साथ परिजनों और ग्राहकों को भी खतरे में डाल रहे हैं।

यह सरासर गलत
कई दुकानदार अपने व दूसरे के परिवार की चिंता किए बैगर दुकान खोल रहे हैं। यह सरासर गलत है। पहले जान सुरक्षित रखें, व्यापार तो बाद में भी किया जा सकता है। उन्होंने दुकानदारों से ऐसा न करने व कोरोना कर्फ्यू का पालन करने की अपील की।-आलोक कुमार, सीओ

error: Content is protected !!