धर्म परिवर्तन विधेयक का समर्थन करने पर कांग्रेस नेता ने कंगना को बताया भाजपा की प्रवक्ता

मध्य प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ अध्यादेश लागू हो जाने के बाद अभिनेत्री कंगना रनौत का इसे समर्थन देना कांग्रेस को नागवार गुजरा है। कांग्रेस ने कंगना रनौत को बीजेपी प्रवक्ता करार दिया है तो वहीं भाजपा लव जिहाद के खिलाफ बनाए गए कानून पर कंगना के समर्थन के लिए उनका धन्यवाद कर रही है।

कंगना रनौत के लव जिहाद के खिलाफ दिए गए बयान पर मध्य प्रदेश में अब सियासत तेज हो गई है। कंगना रनौत का लव जिहाद के खिलाफ बनाए गए कानून पर दिए बयान के बाद कांग्रेस नेता और कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे पीसी शर्मा ने कंगना को उनके बयान के लिए भाजपा प्रवक्ता घोषित कर दिया, और कहा कि उन्हें आजकल विवादों में रहना ज्यादा पसंद है।

पीसी शर्मा ने कहा कि ” इस समय कंगना जी, भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता की तरह बात करती हैं। उन पर देशद्रोह का मुकदमा मुंबई में चल रहा है बहुत से फिल्म स्टारों से उनकी कहासुनी चल रही है वह बहुत ही विवादित स्टार हो गई हैं और मुझे लगता है उनको कॉन्ट्रोवर्सी में रहने में ज्यादा मजा आ रहा है।” 

दरअसल, शनिवार शाम मध्य प्रदेश सरकार ने धर्म स्वातंत्र अध्यादेश 2020 को लागू करने के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया। कंगना अपनी फिल्म की शूटिंग के लिए भोपाल में है लिहाजा पत्रकारों से बात करते हुए जब उनसे इस अध्यादेश के बारे में पूछा गया तो उन्होंने समर्थन करते हुए कहा कि इस तरह के कानून से उन लड़कियों की सुरक्षा हो सकेगी जिन्हें धर्म के नाम पर धोखा दिया जाता है। इसके बाद कंगना रनौत ने शनिवार शाम को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी मुलाकात की थी।

हालांकि भारतीय जनता पार्टी का कहना है कि कंगना रनौत देशभक्त हैं इसलिए वह इस कानून का समर्थन कर रही हैं। शिवराज सरकार में मंत्री विश्वास सारंग का कहना है कि इस कानून से बहन-बेटियों की रक्षा होगी इसलिए इसका समर्थन करने के लिए कंगना रनौत को बधाई दी जानी चाहिए।

विश्वास सारंग ने कहा कि ”जो भी देशभक्त है जो भी इस समाज को सही दिशा देना चाहता है जो भी इस कुरीति को हिंदुस्तान से खत्म करना चाहता है वह इस कानून का समर्थन करेगा और कंगना रनौत निश्चित रूप से देशभक्त हैं तो वह इसका समर्थन कर रही हैं।”

उन्होंने आगे कहा, ”मैं शिवराज सिंह चौहान जी को बहुत बधाई दूंगा कि उनके नेतृत्व में प्रदेश में ऐसा कानून बना है जिससे केवल धर्म परिवर्तन कराने के उद्देश्य से जो शादी कराई जाती हैं, उस पर रोक लगेगी। वह बहन, बेटियां जिन्हें बहला-फुसलाकर, दबाव बनाकर, धर्म परिवर्तन कराकर उनकी जिंदगी को नर्क बना दिया जाता है। अब वह बहन, बेटी, बहू निश्चित रूप से इस कानून के माध्यम से सुरक्षित रहेंगी। कंगना रनौत जी ने इसका समर्थन किया है मैं उन्हें बधाई देता हूं।” 

Please Share this news:
error: Content is protected !!