प्रेम विवाह करने पर माता पिता ने बेटी की दी रूह कंपा देने वाली सजा, गर्म चाकू से दागा

अपनी पसंद के लड़के से प्रेम विवाह करने वाली एक युवती को उसके माता-पिता ने रूह कंपा देने वाली सजा दी। आरोपी युवती को उसकी ससुराल से जबरदस्ती अपने घर ले आए और गर्म चाकू से उसके शरीर को दाग दिया। अगले दिन जब युवक ने अपनी पत्नी की हालत को देखा तो उसने पुलिस को घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने युवती को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया और उसके बयान पर मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने मामले पर कार्रवाई करते हुए युवती के माता-पिता को गिरफ्तार कर लिया है। घटना भलस्वा डेयरी इलाके की है।

पीड़िता की पहचान स्वामी श्रद्धानंद निवासी आनंदी (19) के रूप में हुई है। आनंदी ने पुलिस को बताया कि चार साल पहले उसकी मुलाकात पड़ोस में रहने वाले रंजन से हुई थी। दोनों के बीच प्यार हो गया। 7 सितंबर को दोनों ने रोहिणी कोर्ट में प्रेम विवाह कर लिया।

शादी करने के बाद वह अपने ससुराल पहुंची। उस समय उसकी सास सुनीता देवी घर पर नहीं थी। उसकी ननद को बच्चा होना था इसलिए वह अस्पताल गई थी। रात में वह घर पहुंची। रात करीब तीन बजे उसकी मां अनिता देवी रंजन के घर पहुंची और जबरदस्ती उसे अपने घर ले गई।

हालांकि उसकी सास से कहा कि बच्चों ने शादी कर ली है इनको यहीं रहने दो, लेकिन उसकी मां नहीं मानी और अपने साथ लेकर चली गई। आनंदी ने आरोप लगाया कि परिजनों ने अपनी मर्जी से शादी करने को लेकर उसकी पिटाई कर दी और फिर चाकू को गर्म कर उसके चेहरे, हाथ और पैर को दाग दिया।

उसकी मां ने उसे डराने के लिए उसपर मिट्टी का तेल डाल दिया। सुबह आठ बजे उसका पति रंजन उसके घर पर आया और उसकी दयनीय हालत देखकर पुलिस को फोन किया। पुलिस ने उसे बाबू जगजीवन राम अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने पुलिस ने इस मामले में आनंदी की मां अनिता देवी और पिता राजन सैनी को गिरफ्तार कर मामले की जांच कर रही है।

इस समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें:

error: Content is protected !!