शिमला के आईवी स्कूल पर लगे बच्चों को प्रताड़ित करने के आरोप, अभिभावकों ने की कार्यवाही की मांग

छात्र अभिभावक मंच ने आईवी स्कूल छ्कड़याल कमलानगर भट्ठाकुफ़्फ़र के प्रबंधन पर अभिभावकों व बच्चों को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। मंच ने शिक्षा निदेशक,उपायुक्त शिमला व अध्यक्ष शिकायत निवारण कमेटी से उक्त स्कूल प्रबंधन पर कठोर कार्रवाई करने की मांग की है।

मंच के संयोजक विजेंद्र मेहरा ने कहा है कि आईवी स्कूल छ्कड़याल कमलानगर भट्ठाकुफ़्फ़र का प्रबंधन लगातार तानाशाही कर रहा है। स्कूल प्रबंधन ने शिक्षा निदेशक के आदेशों के मुताबिक केवल टयूशन फीस जमा करने वाले किशन कश्यप की पांचवीं कक्षा में अध्ययनरत बेटी को 19 मार्च को बुरी तरह मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया जिस से वह बुरी तरह सहम गयी है। जब यह बच्ची अपनी दूसरी टर्म की परीक्षा देने गई तो स्कूल प्रबंधन ने इस बच्ची को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने के लिए और बच्चों की अपेक्षा इस बच्ची को बीस मिनट देरी से प्रश्न पत्र दिया। परीक्षा खत्म होने पर सभी बच्चों को उनकी कक्षा में बिठाकर अगले परीक्षा की तैयारी शुरू करवाई गई लेकिन इस बच्ची को उस कक्षा में पहले काफी देर तक ज़लील किया गया व उसके बाद वहां से उसे उठाकर खाली कमरे में दो घण्टे तक अकेले बिठाकर मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया। यह मानवीय संवेदनहीनता है व संविधान में अभिभावकों व छात्रों को 39(एफ) के तहत प्राप्त नैतिक व भौतिक अधिकारों का हनन है। इसलिए ऐसे प्रबंधन पर कठोर कार्रवाई आवश्यक है।

कोरोना काल में वर्ष 2020 में भी उक्त प्रबंधन की तानाशाही की शिकायतें शिक्षा निदेशक व उपायुक्त शिमला को प्राप्त हुई थीं परन्तु इनके द्वारा कोई कार्रवाई न होने से स्कूल प्रबंधन के हौंसले बुलंद होते गए। स्कूल प्रबन्धन ने शिक्षा निदेशक द्वारा टयूशन फीस के अलावा एनुअल चार्जेज़ व अन्य चार्जेज़ पर रोक लगाने के बावजूद भी अभिभावकों से पूर्ण फीस वसूली की। जिन अभिभावकों ने निदेशक के आदेशों के मुताबिक केवल टयूशन फीस जमा की उन्हें लगातार मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया। उनके बच्चों को ऑनलाइन क्लासेज़ से बाहर किया गया व उन्हें परीक्षाओं से वंचित किया गया। स्कूल प्रबंधन ने कोरोना काल में लगभग एक दर्जन कर्मचारियों को गैर कानूनी तरीके से नौकरी से निकालकर उनकी प्रताड़ना भी की जिस पर श्रम विभाग शिमला में सुनवाई चल रही है।

error: Content is protected !!