पंचायत घर में अकेले बैठे थे पूर्व प्रधान और उसकी पत्नी; पंचायत घर सील

बिलासपुर जिला के अंतर्गत आती पंचायत सलोआ के पंचायत घर को सील करने का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार यह घटना दोपहर बाद उस वक्त घटी जब पूर्व प्रधान तथा उसका पति पंचायत घर के अंदर बैठे हुए थे। जैसे ही लोगों को इस बात की भनक लगी कि पूर्व प्रधान व उसका पति पंचायत घर में बैठे कुछ कर रहे हैं तो लोगों ने इकट्ठे होकर तुरंत एसडीएम हुस्न चंद तथा पुलिस को फोन कर दिया। सूचना मिलने पर एसडीएम हुस्न चंद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे, जिसके बाद एसडीएम ने पंचायत घर में मौजूद पूर्व प्रधान व उसके पति से पूछताछ करते हुए कार्रवाई शुरू कर दी। वहीं पंचायत घर पर सचिव भी नहीं था, जिसके बाद पुलिस ने पंचायत घर को तुरंत सील कर दिया।

बता दें कि अभी हाल ही में पंचायत सलोआ के चुनाव हुए हैं। चूंकि अभी तक आचार संहिता लगी हुई है, ऐसे में पूर्व प्रधान तथा उसका पति पंचायत घर में क्या कर रहे थे इसको लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। एसडीएम हुस्न चंद ने बताया कि लोगों ने उन्हें जानकारी दी थी, जिसके बाद पूर्व प्रधान व उसके पति को पंचायत घर में पाया गया। चूंकि आचार संहिता लगी हुई है, ऐसे में उन्हें वहां पर नहीं बैठना चाहिए था। उन्होंने कहा कि बीडीओ को जांच के आदेश दे दिए कि पूर्व प्रधान और उसका पति वहां क्या कर रहे थे तथा पंचायत के रिकार्ड के साथ कोई छेड़छाड़ तो नहीं हुई है। यदि कोई छेड़छाड़ हुई होगी तो इस पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Please Share this news:
error: Content is protected !!