महाराष्ट्र में कल से नाइट कर्फ्यू लागू, यूरोप से आने वालों को होना होगा क्वारंटाइन

महाराष्ट्र सरकार ने ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक नए प्रकार (स्ट्रेन) के फैलने की बढ़ती आशंकाओं के बीच एहतियाती कदम उठाते हुए राज्य के नगर निगम क्षेत्रों में 22 दिसंबर से पांच जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लगाने की सोमवार को घोषणा की। इसके अलावा, यूरोप से आने वाले लोगों को क्वारंटाइन में रहना होगा।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यहां ब्रिटेन में सामने आई स्थिति के मद्देनजर एक बैठक की। इसमें कहा गया है कि बैठक में एहतियाती कदम के रूप में नगर निगम क्षेत्रों में 22 दिसंबर से पांच जनवरी तक रात 11 बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाए जाने का फैसला किया गया।

बयान में कहा गया है कि यूरोपीय और पश्चिम एशियाई देशों से राज्य के हवाई अड्डों पर पहुंचने वाले लोगों को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में भेजने का भी फैसला किया गया। इसमें कहा गया है कि अन्य देशों से महाराष्ट्र आने वाले यात्रियों को घरों में क्वारंटाइन में रहना होगा।

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,234 नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद, कुल संक्रमितों की संख्या 18,99,352 पहुंच गई है। महामारी से 55 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 48,801 हो चुकी है।

उद्धव ने कहा था- नाइट कर्फ्यू के पक्ष में नहीं

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा था कि राज्य में कोरोना नियंत्रण में होने के कारण वह राज्य में किसी भी नए लॉकडाउन या रात का कर्फ्यू लगाने के पक्ष में नहीं हैं। ठाकरे ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य को संबोधित करते हुए लोगों से दिशानिदेर्शों का पालन करने का आग्रह किया था और कहा कि अगले छह महीनों तक मास्क लगाना अनिवार्य है ताकि महामारी को समाप्त किया जा सके। ठाकरे ने कहा था कि विशेषज्ञ फिर से रात का कर्फ्यू या दूसरा लॉकडाउन लागू करने के पक्ष में हैं, लेकिन वह (ठाकरे) इस तरह के कदम उठाने के समर्थन में नहीं हैं।

Please Share this news:
error: Content is protected !!