राष्ट्रीय स्वर्ण परिषद के अध्यक्ष पंकज धवरैया का ऐलान, भीम आर्मी के चीफ की हत्या कर जाऊंगा जेल

हाथरस।  भीम आर्मी के कार्यकर्ता की ओर से राष्ट्रीय सवर्ण परिषद के अध्यक्ष पंकज धवरैया की ओर से मुकदमा दर्ज कराए जाने के बाद से सवर्ण समाज में आक्रोश है। सोमवार को गांव बघना में महाराणा प्रताप की प्रतिमा के पास पंचायत कर आरपार की लड़ाई का ऐलान किया। परिषद के अध्यक्ष ने दो टूक चेतावनी दी कि मुकदमा वापस नहीं हुआ तो मैं झूठे मुकदमे जेल नहीं बल्कि भीम आर्मी के चीफ की हत्या कर जेल जाऊंगा। इसके बाद थाना चंदपा में गिरफ्तारी देने के लिए 150 लोग थाना चंदपा पहुंचे। यहां पर आक्रोश होकर मुकदमा वापस लेने की चेतावनी दी। सीओ द्वारा जांच करने के आश्वासन के बाद यह लोग वापस लौटे। पंचायत को देखते हुए आसपास के थानों से पुलिस के अलावा पीएसी को भी बुला रखा था।

भीम आर्मी के कार्यकर्ता लालमणि और भरत सिंह के साथ मारपीट और लूटपाट में राष्ट्रीय सवर्ण परिषद के अध्यक्ष पकंज धवरैया को नामजद करते हुए 40-50 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस रिपोर्ट से सवर्ण समाज में नाराजगी पैदा हो गई। सोमवार को सुबह 11 बजे गांव बघना में पंचायत हुई। इसमें 200 से अधिक लोगों ने पंचायत में भाग लिया। अध्यक्ष पंकज धवरैया ने कहा कि बूलगढ़ी कांड में चारों लोगों को निर्दोष फंसाया गया है। अब भीम आर्मी के चीफ यहां आकर फिर माहौल खराब कर रहे हैं। उसके कहने पर सफाई कराई जा रही है सड़के बनवाई जा रही है। सवर्ण समाज के लोगों के यहां भी सफाई कर सड़कें बनवानी चाहिए। मेरे खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करवाया गया। इसके बाद 150 लोग नारेबाजी करते हुए थाना चंदपा पहुंचे। यहां पर मुकदमा वापस लेने की मांग की।

जांच में दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

पंकज धवरैया ने कहा कि यदि मुकदमा वापस नहीं लिया तो हम उग्र आंदोलन करेंगे। सीओ ने कहा कि अभी मुकदमा दर्ज हुआ है। मामले की जांच चल रही है। जांच में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस आश्वासन के बाद यह लोग वापस लौट गए।पंचायत को देखते हुए मुरसान, चंदपा और कोतवाली सदर पुलिस के अलावा पीएसी को तैनात कर रखा था। सीओ ट्रैफिक अशोक कुमार बाजपेयी और सीओ ब्रह्म सिंह भी मौजूद रहे।

error: Content is protected !!