मोदी के मंत्रिमंडल में हो सकता है फेरबदल, इन युवाओं को मिल सकती है जिमेवादी

मोदी सरकार कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल हो सकता है. उम्मीद की जा रही है कि इस महीने के आखिर तक केन्द्रीय कैबिनेट मं पहला फेर बदल हो सकता है. ऐसे में ये खबर आ रही है कि इस बार कैबिनेट विस्तार में कई नए चेहरों को शामिल किया जा रहा है. वहीं, एक न्यूज चैनल के मुताबिक, ये भी कयास लगाये जा रहे है कि पहला विस्तार काफी व्यापक होने वाला है.

इसमें कई युवा चेहरों को जगह मिलेगी.

सरकारी सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार, मौजूदा मंत्रीमंडल में शामिल कई चेहरों को संगठन में वापस भेजा जा सकता है और कई नए चेहरों को सरकार में शामिल किया जा सकता है. कयास लगाये जा रहे हैं कि, ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया, अनिल बलूनी, सर्वानंद सोनोवाल, भूपेंद्र यादव, दिनेश त्रिवेदी, सुशील मोदी, अश्‍विनी वैष्‍णव, जमयांग सेरिंग नामग्याल, अनुप्रिया पटेल, संजय निषाद, सुनिता दुग्गल, सरोज पाण्डेय, डॉ. अनिल जैन और दिनेश त्रिवेदी समेत कई और युवाओं को कैबिनेट में जगह मिल सकती है.

गौरतलब है कि काफी समय से कैबिनेट विस्तार को लेकर कश्मकश चल रही थी. काफी सोच विचार के बाद बीजेपी के आला नेताओं ने इन नामों को सिलेक्ट किया है. खबर है कि पहले फेज में जो विस्तार हो रहा है, उनमें कई चेहरों को शामिल किया जाएगा और जो बच जाएंगे उन्हें दूसरे विस्तार में शामिल किया जाएगा. बीजेपी में इसको लेकर काफी बैठकों को दौर चला है.

पहले विस्तार में जिन नेताओं को कैबिनेट का हिस्सा बनाया जाएगा उनमें सबसे खास नाम ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया का है. बता दें, ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया कांग्रेस से बगावत कर बीजेपी में शामिल हुए है. ऐसे में उन्हें पार्टी में विशेष तहरीज दी जा रही है. ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया कांग्रेस के बड़े कद के नेता रहे हैं. केंद्रीय मंत्रीमंडल में मंत्री भी रह चुके हैं.

इसके अलावा वरुण गांधी को भी कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है. अपने बयानों से अक्सर विवाद में रहने वाले बीजेपी नेता वरुण गांधी को सरकार में शामिल किया जा सकता है. वरुण गांधी पीलीभीत से बीजेपी सांसद हैं. उनकी छवि एक कट्टर हिन्दू नेता की रही है. गौरतलब है कि यूपी में जल्द ही चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में पार्टी वरुण गांधी को मंत्रिमंडल विस्तार का हिस्सा बना सकती है.

Get news delivered directly to your inbox.

Join 61,622 other subscribers

error: Content is protected !!