दिन दहाड़े दुकान में घुस कर नकाबपोश गुंडों ने सर्राफा कारोबारी की मारी गोली, हालात गंभीर

लखनऊ के सरोजनीनगर के बिजनौर इलाके के सरवननगर में रहने वाले सर्राफा कारोबारी नरेंद्र कुमार यादव (45) को बुधवार शाम 4.30 बजे बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार दी। वारदात के वक्त वह दुकान के अंदर बैठे थे। स्थनीय लोगों के मुताबिक बदमाशों ने चार से पांच राउंड की फायरिंग की है। तीन गोली नरेंद्र को लगने की बात सामने आई है। बदमाशों ने मास्क से अपना चेहरा ढंक रखा था। वारदात को अंजाम देकर बदमाश बाइक से भाग निकले।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दिया है। वहीं, घायल कारोबारी को परिजनों ने सुशांत गोल्फ सिटी इलाके के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया है। पुलिस का दावा है कि सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों की साफ तस्वीर दिखी है।

उसके आधार पर तलाश शुरू कर दी गई है। खुलासे के लिए चार टीमों को लगाया गया है।

सरोजनीनगर के बिजनौर इलाके में सरवन नगर निवासी नरेंद्र कुमार यादव ने तीन मंजिला भवन के नीचले हिस्से में एसएस ज्वेलर्स के नाम से दुकान खोल रखी है। दुकान करीब 6 महीने पहले खोला था। इसके साथ ही नरेंद्र मुकुंद रियल एस्टेट के नाम से प्रॉपर्टी का कारोबार भी करते हैं। दुकान के ऊपरी हिस्से में वह परिवार सहित रहते भी है।

बुधवार शाम करीब 4.30 बजे वह दुकान में अपनी पत्नी विनोद कुमारी के साथ बैठे थे। इसी बीच दो नकाबपोश बदमाश बेधड़क दुकान के अंदर घुसे। इस दौरान दुकान में मौजूद नौकर आकाश ने दोनों को बाहर जूता निकालकर आने को कहा लेकिन बदमाशों ने नौकर की बात अनसुना कर दिया और अंदर दाखिल हो गये।

दोनों के हाथ में थे असलहे
नौकर आकाश ने पुलिस को बताया कि दोनों बदमाशों के हाथ में असलहे थे। दुकान के अंदर दाखिल होते ही बदमाशों ने कारोबारी की पत्नी विनोद कुमारी को निशाना बनाते हुए फायर कर दिया। लेकिन वह काउंटर के पीछे बैठी थी और नीचे की तरफ झुक गई जिससे वह बच गई और गोली पीछे शीशे में जा धंसी। इसके बाद बदमाशों ने ताबड़तोड़ कई राउंड फायरिंग की। नरेंद्र कुछ समझ पाता तब तक उसे गोली लग चुकी थी। गोली नरेंद्र के सिर में जा धंसी। वह खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर गया। गोली मारने के बाद बदमाश वहां से बंगला बाजार की तरफ बाइक से भाग निकले।

फायरिंग व चीखपुकार सुनकर जुटे पड़ोसी नरेंद्र को खून से लथपथ देखकर विनोद कुमारी ने चीखना शुरू कर दिया। उसकी चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग जुट गये। वहीं, बेटा सिद्घार्थ भी ऊपरी मंजिल से नीचे भागता हुआ पहुंचा। आनन-फानन में घायल नरेंद्र को परिजन निजी संसाधन से सुशांत गोल्फ सिटी स्थित मेदांता अस्पताल लेकर गये। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं पड़ोसियों ने तत्काल पुलिस को वारदात के बारे में सूचना दी। सर्राफा कारोबारी को गोली मारे जाने की सूचना मिलते ही मौके पर डीसीपी मध्य ख्याति गर्ग, एडीसीपी मध्य चिरंजीव नाथ सिन्हा और एसीपी कृष्णानगर स्वतंत्र कुमार सिंह सहित कई पुलिस अधिकारी पहुंच गये।

फुटेज में मिली बदमाशों की तस्वीर
एडीसीपी मध्य चिरंजीव नाथ सिन्हा के मुताबिक वारदात की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम ने पड़ताल शुरू किया। इस दौरान आसपास के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले गये। जिसमें बदमाशों की कुछ तस्वीरें मिली है। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों के डीवीआर को कब्जे में ले लिया है। फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश की जा रही है।

एडीसीपी के मुताबिक आसपास के इलाके में नाकाबंदी कर दी गई है। वाहनों की चेकिंग की जा रही है। ताकि आरोपियों को जल्द ही पकड़ लिया जाए। वहीं वारदात स्थल के कुछ दूरी पर बदमाशों का हेल्मेट मिला है। जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। मौके पर फोरेंसिक और डाग स्क्वायड की टीम भी बुलाई गई। डागस्वायड की टीम वारदात स्थल से 300 मीटर बंगला बाजार की तरफ जाकर वापस आ गया।

error: Content is protected !!